बिहार चुनाव में मोहम्मद अली जिन्ना की एंट्री, भाजपा ने कांग्रेस पर बोला हमला, लपेटे में आडवाणी

Bihar Assembly Election 2020: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छात्रसंघ का अध्यक्ष रहते हुए उस्मानी पर अपने कमरे में पाकिस्तान के जनक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगाने और जिन्ना का महिमामंडन करने के आरोप हैं.

बिहार चुनाव में मोहम्मद अली जिन्ना की एंट्री, भाजपा ने कांग्रेस पर बोला हमला, लपेटे में आडवाणी

पाकिस्तान के जनक और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष मोहम्मद अली जिन्ना.

पटना:

Bihar Assembly Election 2020: बिहार में कांग्रेस पार्टी के एक उम्मीदवार के कारण NDA खासकर भाजपा महागठबंधन पर हमलावर हो गई है. कांग्रेस ने दरभंगा जिले के तहत आने वाली जाले विधानसभा सीट से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के एक पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष मशकूर अहमद उस्मानी को अपना उम्मीदवार बनाया है. उनकी उम्मीदवारी पर  कांग्रेस के अंदर भी विरोध के स्वर फूट पड़े हैं. कांग्रेस के पूर्व विधायक और सीट से टिकट के दावेदार रहे ऋषि मिश्रा ने उस्मानी के जिन्नावादी होने का आरोप लगाया है.

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी छात्रसंघ का अध्यक्ष रहते हुए उस्मानी पर अपने कमरे में पाकिस्तान के जनक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगाने और जिन्ना का महिमामंडन करने के आरोप हैं.

शुक्रवार (16 अक्टूबर) को इस विवाद में भाजपा के नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी एंट्री मारी. सिंह ने कहा कि देश गांधी के रास्ते पर चलेगा या जिन्ना के रास्ते पर? उन्होंने ये भी कहा कि भारत में जिन्ना का क्या काम है? उनके अनुसार जब पुलिस ने उनके दफ़्तर में छापेमारी की थी तब जिन्ना की तस्वीर हटाने पर उस्मानी ने जबर्दस्त हंगामा किया था.

'लोजपा और चिराग को न भ्रम में रहना चाहिए, न भ्रम पालना चाहिए' : सुशील मोदी और भूपेन्द्र यादव यादव ने कहा

वहीं, उस्मानी का कहना हैं कि जिन्ना की तस्वीर होना एक ऐतिहासिक तथ्य है. हालाँकि, वो उनकी विचारधारा का विरोध करते हैं. उस्मानी ने कहा कि जिन्ना का तस्वीर होना ये साबित नहीं करता कि जो छात्र संघ का अध्यक्ष है, वह जिन्ना की ही विचारधारा से प्रेरणा लेता है. उन्होंने यह भी कहा कि अगर बात ऐसी है तो पहले संसद से वीर सावरकर की तस्वीर भी हटायी जानी चाहिए.

बिहार चुनाव : LJP ने जारी की दूसरी लिस्ट, मैथिल ब्राह्मणों-भूमिहारों और दलितों पर मेहरबान पासवान

इस बीच कांग्रेस पार्टी के बिहार प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल ने भी इस विवाद पर सफाई दी है और BJP से कहा है कि भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ़ में क्या क्या कहा ये भाजपा क्यों भूल रही है? गोहिल ने कहा कि आडवाणी पाकिस्तान में जिन्ना की मज़ार पर भी गए थे. वहाँ से लौटकर उन्होंने जिन्ना की तारीफ़ भी की थ. ऐसे में भाजपा नेताओं को ऐसे आरोप लगाने का कोई हक नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वीडियो: बिहार का दंगल: विधानसभा चुनाव में वीडियो वॉर तेज