गुप्तेश्वर पांडे के बहाने फडणवीस पर सेना का निशाना- 'महाराष्ट्र का अपमान करने वाले का चुनाव प्रचार करेंगे?'

देशमुख ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'गुप्तेश्वर पांडे बिहार में चुनाव लड़ने जा रहे हैं. मैं देवेंद्र फडणवीस से पूछना चाहता हूं कि क्या वो महाराष्ट्र का अपमान करने वाले पांडे के लिए चुनाव प्रचार करेंगे?'

गुप्तेश्वर पांडे के बहाने फडणवीस पर सेना का निशाना- 'महाराष्ट्र का अपमान करने वाले का चुनाव प्रचार करेंगे?'

बिहार चुनाव का प्रभार देख रहे देवेंद्र फडणवीस को संतुलन बनाना पड़ रहा है. (फाइल फोटो)

मुंबई/पटना:

बिहार विधानसभा चुनावों (Bihar Assembly Elections 2020) में बीजेपी का चुनावी प्रभार देख रहे महाराष्ट्र बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) को यहां पर महीनों तक दोनों राज्यों में विवाद का कारण रहे सुशांत सिंह राजपूत केस को लेकर बहुत बैलेंस बनाकर चलना पड़ रहा है. मंगलवार को महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने बिहार पुलिस के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे, जिन्होंने जेडीयू जॉइन कर लिया है और अब चुनाव लड़ने वाले हैं, को लेकर देवेंद्र फडणवीस को घेरा. 

देशमुख ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'गुप्तेश्वर पांडे बिहार में चुनाव लड़ने जा रहे हैं. मैं देवेंद्र फडणवीस से पूछना चाहता हूं कि क्या वो महाराष्ट्र का अपमान करने वाले पांडे के लिए चुनाव प्रचार करेंगे?'

गुप्तेश्वर पांडे ने सुशांत राजपूत केस में उनके परिवार की ओर से पटना में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ फआईआर दर्ज होने के बाद महाराष्ट्र की सरकार और मुंबई पुलिस पर हमले बोले थे. मौत के कारण पर सवाल उठने के बाद उन्होंने भी सीबीआई जांच की बात की थी. और जब सुप्रीम कोर्ट ने केस सीबीआई को सौंपा और मुंबई पुलिस से भी रिकॉर्ड और सबूत सौंपने को कहे, तो पांडे ने इसे जीत बताया था. पिछले महीने गुप्तेश्वर पांडे ने पुलिस फोर्स से वीआरएस ले लिया और राजनीति में आ गए. 

यह भी पढ़ें: बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व को स्वीकार करने वाला ही NDA में रहेगा : बीजेपी

पांडे के इस कदम पर मुंबई पुलिस के चीफ परमवीर सिंह से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 'चूंकि बिहार डीजीपी मेरे सीनियर हैं, तो मैं इसपर कोई कमेंट नहीं कर सकता.'

बता दें कि बिहार चुनाव में सुशांत सिंह राजपूत का मुद्दा भी उठा है. सुशांत बिहार से ही थे. यहां पर जेडीयू-बीजेपी के गठबंधन वाले पोस्टरों पर कई जगह उनकी तस्वीरें देखी गई थीं. इन तस्वीरों में गठबंधन को मामले में सीबीआई की जांच को बढ़ावा देने और बिहार के युवा बेटे को न्याय दिलाने का क्रेडिट दिया गया था.

देवेंद्र फडणवीस ने पिछले महीने कहा था कि 'हम सुशांत सिंह की मौत को चुनावी मुद्दा नहीं बनाना चाहते हैं. यह एक आम आदमी की भावना से जुड़ा मसला है. हम सुनिश्चित करेंगे कि इनको न्याय मिले और न्याय मिलने तक शांत नहीं बैठेंगे.'

Video: तेजस्वी की तारीफ कर JDU में कैसे चिराग: जनता दल यूनाइटेड

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com