बिहार चुनाव : तेजस्वी यादव ने शुरू किया चुनावी कैंपेन, बोले- पिता लालू यादव की कमी खलेगी

जस्वी यादव ने कहा कि भले ही उनके पिता चुनावी कैंपेन का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं लेकिन वो इसकी पूरी अहमियत समझते हैं और इसलिए उन्होंने पार्टी के सभी नेताओं को अपना पूरा वक्त और ध्यान इस बार जीत हासिल करने में लगाने को कहा है. 

बिहार चुनाव : तेजस्वी यादव ने शुरू किया चुनावी कैंपेन, बोले- पिता लालू यादव की कमी खलेगी

लालू की गैरमौजूदगी में तेजस्वी यादव पर चुनाव का दारोमदार.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय जनता दल पार्टी के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कहा है कि वो बिहार विधानसभा चुनावों (Bihar Assembly Elections 2020) में अपने पिता और पार्टी के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को चुनावी कैंपेन में मिस करेंगे. तेजस्वी ने मंगलवार को पार्टी का चुनाव कैंपेन शुरू किया. इस मौके पर उन्होंने कहा कि वो पार्टी के कार्यकर्ताओं में उत्साह बढ़ाने की क्षमता और पिता की उपस्थिति की कमी खलेगी. 

ANI से बातचीत में तेजस्वी यादव ने कहा कि भले ही उनके पिता चुनावी कैंपेन का हिस्सा नहीं बन पा रहे हैं लेकिन वो इसकी पूरी अहमियत समझते हैं और इसलिए उन्होंने पार्टी के सभी नेताओं को अपना पूरा वक्त और ध्यान इस बार जीत हासिल करने में लगाने को कहा है. 

उन्होंने कहा, 'बिल्कुल हम लालूजी को बहुत याद कर रहे हैं. बस पार्टी के ही लोग नहीं, बिहार के लोग भी उन्हें मिस कर रहे हैं. लोगों ने पिछले विधानसभा चुनावों में उनमें और आरजेडी अपना विश्वास रखा था. और उनकी वजह से ही हम उस वक्त सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे थे. उन्होंने वो रास्ता बनाया, जिसपर हमसब चल रहे हैं. वो बिहार के लोगों के लिए इन चुनावों की अहमियत समझते हैं और हमसे कड़ी मेहनत करने और अपना बेस्ट देने को कहा है.'

यह भी पढ़ें : नीतीश ने किसे निशाने पर रखकर कहा- लोग बात करते हैं और आपका वोट ले लेते हैं

बता दें कि लालू प्रसाद यादव को चारा घोटाले से जुड़े चाइबासा ट्रेजरी केस में हाल ही में झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल गई थी, लेकिन कोर्ट में एक और केस पेंडिंग होने के चलते वो जेल से बाहर नहीं आ पाए हैं. ऐसे में पिछले 30 सालों में ऐसा पहली बार होगा कि वो चुनाव कैंपेन में हिस्सा नहीं ले पाएंगे.

तेजस्वी ने कहा कि 'उन्होंने हमसे कहा है कि हम लोगों के साथ खड़े रहें, उनकी आवाज उठाएं. उन्होंने हमसे इस संकट की घड़ी में लोगों कर पहुंचने और उनको अच्छे वक्त और बदलाव की आशा देने को कहा है. हमें उनकी कमी खलेगी, उनकी ऊर्जा, विषम परिस्थितियों में लोगों का उत्साह बढ़ाने की उनकी क्षमता को हम याद करेंगे.' उन्होंने उम्मीद जताई कि उनके पिता महागठबंधन की जीत के बाद शपथ ग्रहण समारोह तक बाहर आ जाएं.

Video: तेजस्वी, तेजप्रताप यादव पर मर्डर की एफआईआर


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com