NDTV Khabar

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के हाल के दिनों में दिए गए बयान उनकी व्यक्तिगत राय : बिहार BJP अध्यक्ष

बिहार में NDA में अब सब कुछ ठीक करने की कवायद हो रही है जहां पांच विधानसभा और एक लोकसभा क्षेत्र के लिए होने वाले उपचुनाव में एनडीए के घटक दल ख़ासकर जनता दल यूनाइटेड और BJP ने एक दूसरे के लिए प्रचार करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के हाल के दिनों में दिए गए बयान उनकी व्यक्तिगत राय : बिहार BJP अध्यक्ष
पटना:

बिहार में NDA में अब सब कुछ ठीक करने की कवायद हो रही है जहां पांच विधानसभा और एक लोकसभा क्षेत्र के लिए होने वाले उपचुनाव में एनडीए के घटक दल ख़ासकर जनता दल यूनाइटेड और BJP ने एक दूसरे के लिए प्रचार करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है वहीं अब बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल का कहना है कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के हाल के दिनों में दिए गए अयान उनकी व्यक्तिगत राय है, पार्टी का उससे लेना देना नहीं है.

संजय जयसवाल रविवार को भागलपुर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे वे वहां पर चुनाव प्रचार के लिए आए हैं. उनका उद्देश्य है कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं और नेताओं की सक्रियता बढ़ायी जाए. हालांकि पटना में जल जमाव के बाद सरकार की आलोचना करते हुए और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से दोषी अधिकारियों के ख़िलाफ़ कारवाई की मांग करते हुए बिहार बीजेपी के अध्यक्ष ने भी एक से अधिक बयान दिए थे. जिसके बाद माना जा रहा था कि वह गिरिराज सिंह के साथ मिलकर सरकार को घेरने के काम में लगे हैं.

संजय जायसवाल ने साफ़  कहा कि पार्टी प्रवक्ताओं का बयान ही आधिकारिक माना जाएगा. जहां तक गिरिराज सिंह के बयान का प्रश्न है तो वो पार्टी के सम्मानित नेता हैं. माना जा रहा हैं कि उनके इस बयान के पीछे दो कारण हैं, एक उन्होंने केंद्रीय नेतृत्व का मूड भांपा है जो फ़िलहाल नीतीश कुमार को एक सीमा से ज़्यादा घेरने के मूड में नहीं है. दूसरा वो फ़िलहाल गिरिराज सिंह के समर्थक के रूप में अपनी छवि नहीं बनाना चाहते हैं क्योंकि इसका उन्हें खामियाजा उठाना पड़ सकता है और साथ ही साथ उन्हें मालूम है NDA के घटक दलों के कार्यकर्ताओं में इस बयानबाजी के कारण काफ़ी मायूसी हैं.


टिप्पणियां

फ़िलहाल जनता दल यूनाइटेड के नेता बिहार BJP के अध्यक्ष के इस बयान के बाद राहत की सांस ले रहे हैं क्योंकि उन्हें मालूम है कि उपचुनाव में BJP के नेताओं और कार्यकर्ताओं की उन्हें ही ज़रूरत है और उनको अब लग रहा है कि जयसवाल के ऐसे बयान से कार्यकर्ताओं के बीच कन्फ्यूजन ख़त्म होगा. 


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement