Coronavirus: सिवान में क्वारेंटाइन सेंटर में संदिग्धों ने किया पथराव, तोड़फोड़ की

Coronavirus: बिहार के सिवान के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों ने जमकर हंगामा किया

Coronavirus: सिवान में क्वारेंटाइन सेंटर में संदिग्धों ने किया पथराव, तोड़फोड़ की

Coronavirus: बिहार के सिवान के क्वारेंटाइन सेंटर में संदिग्धों के हमले से घायल एक कर्मचारी.

पटना:

Coronavirus: बिहार के सिवान के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र में बने क्वारेंटाइन सेंटर में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्धों ने जमकर हंगामा किया. उन्होंने सेंटर में ड्यूटी पर तैनात स्टॉफ पर पथराव किया और फर्नीचर तोड़ दिया. इससे सेंटर में काम कर रहे सरकारी कर्मचारी घायल हो गए. सेंटर में रखे गए संदिग्ध उत्पात करने के बाद भाग गए.   

सिवान के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर कोरोना के संदिग्ध लोगों को रखा गया है. इस सेंटर में रखे गए सभी संदिग्ध आज आक्रोशित हो गए और जमकर हंगामा करने लगे. उन्होंने वहां ड्यूटी कर रहे लोगों पर पत्थरबाजी की और कुर्सियां तोड़ दीं. उत्पात करने वालों ने सेंटर का फर्नीचर तोड़फोड़ करके बाहर सड़क तक पर बिखेर दिया. इससे सरकारी कर्मचारियों को चोटें लगीं. संदिग्ध सेंटर से भाग गए हैं.

बिहार (Bihar) में कोरोना वायरस संक्रमण के 31 मामले सामने आ चुके हैं. कल एक पॉजिटिव मामला सामने आया था. यह केस सिवान में ही मिला. यहां एक 35 साल का व्यक्ति कोविड-19 (COVID-19) से संक्रमित मिला है. यह व्यक्ति 21 मार्च को बहरीन से लौटा था.  

देश के विभिन्न राज्यों में कोरोनावायरस का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है. कोरोनावायरस (Coronavirus) के नए मामले रोज-रोज सामने आ रहे हैं. बिहार में अब तक 31 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की जानकारी मिली है. बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने ट्वीट करके यह जानकारी दी. उन्होंने अपने ट्वीट में कोरोना वायरस की जांच और पुष्ट मामलों के संदर्भ में जानकारी साझा की है. कुमार के ट्वीट के मुताबिक, शुक्रवार तक कुल 2629 टेस्ट किए गए हैं, जिनमें कुल 31 कोरोना संक्रमित मामलों की पुष्टि हुई है. वहीं, तीन लोग इलाज के बाद ठीक हो गए हैं. इसके अलावा, 932 नमूने की जांच अभी बाकी है. 

कुमार के ट्वीट के अनुसार, राजेंद्र स्मारक चिकित्सा विज्ञान अनुसंधान संस्थान (RMRIMS), पटना में शुक्रवार तक इस वायरस से जुड़े 2,239 टेस्ट किए गए हैं. इसमें से अब तक 19 लोग के टेस्ट पॉजिटिव आए हैं. वहीं, 500 सैंपल की टेस्टिंग अभी बाकी है. इसी तरह, इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS), पटना में 362 जांच की गई है, जिसमें 12 मामलों की पुष्टि हुई है. इस संस्थान में 420 नमूने की जांच होनी अभी बाकी है. दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (DMCH), दरभंगा में कोरोना के 28 टेस्ट हुए हैं, इसमें अब तक कोरोना संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया जबकि 12 सैंपल की जांच लंबित है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com