बिहार चुनाव: भागलपुर में NH80 को लेकर राजनीति जोरों पर, इंजीनियर और ठेकेदार के बीच मुकाबला

भागलपुर में एक सड़क NH80 को लेकर राजनीति जोरों पर है. इस रोड को मुद्दा बनाकर कहलगांव विधानसभा में इंजीनियर और ठेकेदार के बीच दिलचस्प सियासी मुकाबला छिड़ा है.

बिहार चुनाव: भागलपुर में NH80 को लेकर राजनीति जोरों पर, इंजीनियर और ठेकेदार के बीच मुकाबला

प्रतीकात्मक तस्वीर

पटना:

भागलपुर में एक सड़क NH80 को लेकर राजनीति जोरों पर है. इस रोड को मुद्दा बनाकर कहलगांव विधानसभा में इंजीनियर और ठेकेदार के बीच दिलचस्प सियासी मुकाबला छिड़ा है. कहलगांव से कांग्रेस के 9 बार के विधायक सदानंद सिंह के  इंजीनियर बेटे शुभानंद और बीजेपी की तरफ से ठेकेदार से समाजसेवी बने पवन यादव के बीच सीधी टक्कर है. 

लोग बताते हैं,''पूरी सड़क टूटी है सुबह नहाकर निकलते हैं रात को धूल के भूत बनकर वापस आते हैं. पूरा ऑटो टूट चुका है दो दिन कमाते हैं तीसरे दिन मिस्त्री को देते हैं.' भागलपुर से कहलगांव NH 80 सड़क की खस्ताहालत को लेकर लोगों के बीच जबरदस्त गुस्सा है. अब बीजेपी प्रत्याशी बोल रहे हैं, ''हम आपकी ये सड़क बनवा देंगे...हमें लड़कियों का स्कूल भी चाहिए...''

भागलपुर के कहलगांव विधानसभा से बीजेपी के उम्मीदवार पवन यादव SUV से गांव की गली-गली में वोट मांग रहे हैं. NH80 को बनवाने का दावा भी बढ़चढ़ कर रहे हैं. विपक्षी कहते हैं कि कभी इसी NH80 के ठेकेदार थे लेकिन अब इस सवाल पर वो नाराज हो जाते हैं.

यह भी पढ़ें:बिहार चुनाव: सीतमढ़ी में अयोध्या की तर्ज़ पर माता सीता का मंदिर बनाना चाहते हैं चिराग पासवान

पवन यादव ने एनडीटीवी से कहा,''कौन कहता है कि मैं ठेकेदार हूं समाज सेवी पवन यादव हूं. किसान का बेटा हूं ये सब भ्रम फैलाया जा रहा है.'' उधर कहलगांव से कांग्रेस के दिग्गज नेता और नौ बार विधायक रहे सदानंद सिंह के इंजीनियर बेटे कांग्रेस के उम्मीदवार हैं. दो साल तक लंदन में टाटा कंपनी में इंजीनियर के तौर पर काम करके पिता की राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ाने के लिए चुनावी मैदान में हैं. 

वो कहते हैं कि नेशनल हाईवे होने की वजह से सड़क का विधायक फंड से काम नहीं करा पाए. अब वो NH80 को बनाने के लिए PIL कर रहे हैं. शुभानंद मुकेश ने कहा,'सदानंद जी ने विधायक रहते हुए सड़क बनवाने के लिए गडकरी से लेकर नरेंद्र सिंह को बहुत चिट्ठी लिखी लेकिन नेशनल हाईवे की वजह से काम नहीं हो पाया लेकिन मैं हल निकाल कर रहूंगा.''

Newsbeep

भागलपुर से कहलगांव जाने वाली NH80 पर बीते पांच साल में 150 करोड़ मरम्मत पर खर्च हो चुका है. अब एक बार फिर से इसे बनवाने के लिए अधिकारियों ने 910 करोड़ का इस्टीमेट बना दिया है और नेता चुनाव जीतने के लिए बढ़चढ़कर वादे कर रहे हैं. NH 80 बीते कई सालों से यहां के लोगों की जिंदगी को धूल गर्द में मिला रहा है सड़क की मरम्मत के नाम पर नेता अधिकारी करोड़ों डकार गए हैं.

शराबबंदी के नाम पर बिहारियों को बनाया जा रहा तस्कर : चिराग पासवान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com