NDTV Khabar

राजस्‍थान : निजी स्‍कूल की नाबालिग छात्रा ने 8 शिक्षकों पर लगाए रेप के गंभीर आरोप, मामला दर्ज

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. नोखा में पहले भी शिक्षण संस्था में छात्रा से रेप व हत्या का मामला आया था
  2. छात्रा व उसके पिता ने बताया कि ये शिक्षक 9 महीनों तक यौनशोषण करते रहे
  3. पीड़ि‍ता के पिता की रिपोर्ट पर नोखा सीओ बनवारी लाल जांच कर रहे हैं
बीकानेर: राजस्थान के बीकानेर के नोखा में यौनशोषण का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां 13 वर्षीय बालिका व उसके परिजनों ने एक निजी स्कूल के आठ शिक्षकों पर यौनशोषण का मामला दर्ज करवाया है. कैंसर से पीड़ित नाबालिग छात्रा व उसके पिता ने नोखा थाने में मामला दर्ज करवाते हुए बताया कि साजनवासी गांव के सरस्वती शिक्षण संस्था के आठ शिक्षक पिछले डेढ़ वर्ष से अश्लील वीडियो क्लिप के सहारे ब्लैकमेल करते हुए उसका यौनशोषण कर रहे हैं और जुबान खोलने पर जान से मारने की भी धमकी देते हैं. लड़की के पिता का कहना है कि स्कूल टीचर्स ने लड़की का वीडियो बना कर उसे ब्लैकमेल किया. पॉक्‍सो ऐक्ट के तहत 8 शिक्षकों के ख़िलाफ़ FIR दर्ज़ की गई है.

नोखा में पहले भी शिक्षण संस्था में दलित छात्रा से रेप और हत्या का मामला आ चुका है, ऐसे में एक बार फिर इस मामले में गुरु शिष्य परंपरा को शर्मशार करने वाली इस वारदात ने सभी को सकते में दाल दिया है.

छात्रा व उसके पिता ने बताया कि इन शिक्षकों ने पहले तो पीड़ि‍ता की अशलील विडियो क्लिप बना ली और बाद में ब्लैकमेल कर उसका 9 महीनों तक यौनशोषण करते रहे. इस शोषण से परेशान पीड़ि‍ता की शारारिक तकलीफ बढ़ने लगी और उसने अपनी मां को आपबीती सुनाई.

पीड़ि‍ता के पिता द्वारा नोखा थाना पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट के मुताबिक गांव के निजी स्कूल सरस्वती शिक्षण संस्था के शिक्षक विरेन्द्र, विक्रम, विकास, पवन, हनुमान, रोहित, दुलीचंद व बिजेन्द्र ने उसकी बेटी को कक्षा में बंद कर सारे कपड़े उतारवा लिए फिर मोबाईल से नग्न विडियो क्लिप बना ली और इन विडियो क्लिप को इंटरनेट पर वायरल करने की धमकी देकर लगातार ब्लैकमेल किया. पीड़ि‍ता के मुताबिक ये सभी शिक्षक स्कूल की छुट्टी होने के बाद आये दिन उसे डरा धमकाकर यौन शोषण करने लगे और गर्भवती होने पर उन्होंने उसे गर्भनिरोधक गोली खिला दी जिससे उसकी तबीयत और ज्यादा बिगड़ गई और उसे कैंसर जैसी बीमारी भी हो गई.

टिप्पणियां
फिलहाल पीबीएम अस्‍पताल के कैंसर रिसर्च सेंटर में भर्ती इस पीड़ि‍ता के पिता की रिपोर्ट पर नोखा सीओ बनवारी लाल जांच कर रहे हैं और आरोपियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी की जा रही है. वहीं कहीं न कहीं अपने ही गुरुजनों पर छात्रा के इन गम्भीर आरोपों ने एक बार फिर गुरु शिष्य के पवित्र रिश्ते को शर्मशार किया है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement