NDTV Khabar

झपट्टा मार चोर छीन ले गए बीजेपी नेता की पत्नी का मोबाइल

जिस जगह पर वारदात हुई वहां से दिल्ली पुलिस मुख्यालय चंद मीटर की दूरी पर है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झपट्टा मार चोर छीन ले गए बीजेपी नेता की पत्नी का मोबाइल

पीड़िता भाजपा की शाहदरा जिला इकाई के उपाध्यक्ष सुशील उपाध्याय की पत्नी हैं.

खास बातें

  1. बाइकसवार झपटमार चोरों ने छीना मोबाइल
  2. छीनाझपटी में स्कूटी से गिरे पति-पत्नी
  3. आईटीओ फ्लाईओवर के पास हुआ हादसा
नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मोबाइल झपटमारों का आतंक बहुत बढ़ गया है. बीते सप्ताह मंडी हाउस के पास झपटमारों ने महाधिवक्ता की पत्नी का मोबाइल छीन लिया था, जिसे दिल्ली पुलिस अभी तक तलाश नहीं पाई है. अब एक मध्य दिल्ली में यमुना के पास झपटमारों ने एक भाजपा नेता की पत्नी का मोबाइल फोन छीन लिया. पीड़ित महिला का नाम शकुंतला उपाध्याय है. वह पूर्व पार्षद और वर्तमान में भाजपा की शाहदरा जिला इकाई के उपाध्यक्ष सुशील उपाध्याय की पत्नी हैं और पूर्वी दिल्ली के शकरपुर इलाके में रहती हैं.

जल्द ही सिम कार्ड व आईएमईआई नंबर बदलने के बावजूद लग जाएगा चोरी के मोबाइल का पता

घटनाक्रम के मुताबिक, शकुंतला का परिवार हर महीने के अंतिम रविवार को यमुना घाट की सफाई के लिए जाता है. साथ ही यह परिवार यमुना के आसपास अक्सर पौधरोपण कार्यक्रम भी आयोजित करता है. रविवार को शकुंतला सफाई अभियान के बाद स्कूटी पर पति सुशील उपाध्याय के साथ घर वापस लौट रही थीं.


लक्ष्मी नगर जाने के लिए जैसे ही स्कूटी आईटीओ फ्लाईओवर के नीचे यू-टर्न के लिए मुड़ी, पीछे से मोटरसाइकिल से आए झपटमारों ने हमला बोल दिया. पलक झपकते ही झपटमार शकुंतला के हाथ में मौजूद स्मार्टफोन छीनकर भाग गए. झपटमारों के अचानक हमले से दंपति के दोपहिया वाहन का संतुलन बिगड़ गया. दोनों जमीन पर गिर पड़े. इस सिलसिले में पुलिस ने थाना आईपी एस्टेट में मामला दर्ज कर लिया है. खास बात ये है कि जिस जगह पर वारदात हुई, दिल्ली पुलिस मुख्यालय वहां से चंद मीटर की दूरी पर है. 

टिप्पणियां

दिल्ली से चोरी के फोन नेपाल भेजने वाला गिरोह चढ़ा पुलिस के हत्थे, सात गिरफ्तार

राजधानी में पुलिस और जनता पर हावी हो रहे झपटमारों के बारे में आईएएनएस ने दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता अनिल मित्तल से बात की. प्रवक्ता के मुताबिक, "दिल्ली पुलिस ने झपटमारी के लिए बदनाम सभी स्थानों की पहचान के लिए विशेष टीमें गठित की है. ये टीमें हर थाने में हैं. दिल्ली पुलिस अक्सर बीट, पुलिस कंट्रोल रूम और ट्रैफिक पुलिस की मदद से भी इन झपटमारों को काबू करने के लिए अभियान चलाती रहती है."



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement