NDTV Khabar

रेप की वारदातों पर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार का विवादित बयान,1-2 घटनाओं पर बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए

12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप के मामलों में दोषियों को मृत्युदंड सहित सख्त सजा के प्रावधान वाले अध्यादेश पर आज राष्ट्रपति की मुहर लग गई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेप की वारदातों पर केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार का विवादित बयान,1-2 घटनाओं पर बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए

मोदी सरकार में मंत्री हैं संतोष गंगवार

खास बातें

  1. रेप की घटनाओं पर केंद्रीय मंत्री का बयान
  2. 'बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिये'
  3. मोदी सरकार में मंत्री हैं संतोष गंगवार
नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने रेप की घटनाओं पर एक विवादित बयान दिया है. एएनआई के मुताबिक उन्होंने कहा, 'ये दुर्भाग्यपूर्ण हैं लेकिन इनको रोका नहीं जा सकता है. सरकार सक्रिय है सब जगह, कार्रवाइयां हो रही हैं. इतने बड़े देश में एक दो घटनाएं हो जाएं तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए.'

संतोष गंगवार का बयान ऐसे समय आया है जब उन्नाव और कठुआ कांड सहित पूरे देश से रेप की लगातार खबरें आ रही हैं और इतना ही नहीं इसी बीच देश-विदेश के 600 शिक्षाविदों ने पीएम मोदी को चिट्ठी भी लिखी है. उन्होंने चिट्ठी में पीएम मोदी के चुप रहने पर नाराजगी जताई है.  
 
मोदी सरकार के मंत्री बोले : रोजगार सृजन नहीं हुआ तो भावी पीढ़ी हमें माफ नहीं करेगी

गौरतलब है कि 12 साल से कम उम्र की बच्चियों से रेप के मामलों में दोषियों को मृत्युदंड सहित सख्त सजा के प्रावधान वाले अध्यादेश पर आज राष्ट्रपति की मुहर लग गई है. केंद्र सरकार द्वारा पारित अध्यादेश पर राष्ट्रपति ने रविवार को हस्ताक्षर किये हैं. 

टिप्पणियां
वीडियो : सिर दर्द की वजह बने 10 सिक्के


बता दें कि शनिवार को मोदी सरकार ने इस अध्यादेश को पारित किया था. आपराधिक कानून संशोधन अध्यादेश में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी), साक्ष्य कानून, आपराधिक प्रक्रिया संहिता और बाल यौन अपराध संरक्षण कानून (पोक्सो) में संशोधन का प्रावधान है. इसमें ऐसे अपराधों के दोषियों के लिए मौत की सजा का नया प्रावधान लाने की बात कही गई है. जम्मू कश्मीर के कठुआ और गुजरात के सूरत जिले में हाल ही में लड़कियों से बलात्कार और हत्या की घटनाओं की पृष्ठभूमि में यह कदम उठाया गया है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement