Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

नोटबंदी के मुद्दे पर कांग्रेस देश को भ्रमित कर रही है : भाजपा 

आरबीआई ने कहा था कि 500 और 1,000 रुपये के चलन से बाहर हुए 99.3 प्रतिशत नोट बैंकिग प्रणाली में वापस आ गये हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नोटबंदी के मुद्दे पर कांग्रेस देश को भ्रमित कर रही है : भाजपा 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस नोटबंदी के मुद्दे पर देश को ‘‘भ्रमित’’ कर रही है. भाजपा ने दावा किया कि इस कदम से बैंकों में काला धन जमा हुआ, आयकर संग्रह में वृद्धि हुई, मुखौटा कंपनियों पर कार्रवाई की गई और डिजिटल भुगतान को बढ़ावा मिला. गौरतलब है कि आरबीआई ने कहा था कि 500 और 1,000 रुपये के चलन से बाहर हुए 99.3 प्रतिशत नोट बैंकिग प्रणाली में वापस आ गये हैं. इसके बाद कांग्रेस ने देश से कथित रूप से झूठ बोलने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से माफी मांगने की मांग की थी. भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि नवम्बर 2016 में की गई नोटबंदी के कारण काले धन का पता मिला और सरकार को 18 लाख से अधिक संदिग्ध बैंक खातों को जांच के तहत लाने के लिए प्रेरित किया.

यह भी पढ़ें: नोटबंदी के 21 महीने बाद भी स्‍टेट बैंक के 18,135 ATM नहीं हुए नए नोटों के अनुकूल


उन्होंने पत्रकारों से कहा कि 2.09 लाख से अधिक आयकर नहीं भरने वाले लोगों ने अपनी रिटर्न दाखिल की और कर संग्रह में 18 प्रतिशत की वृद्धि हुई. पांच लाख से अधिक मुखौटा कंपनियां बंद हो गईं. गौरतलब है कि नोटबंदी को लेकर कुछ दिन पहले संसद की एक समिति में शामिल भाजपा सांसदों ने नोटबंदी पर विवादित मसौदा रिपोर्ट को स्वीकार करने से रोक दिया है. यह रिपोर्ट मोदी सरकार के नोटंबदी के निर्णय के लिहाज से महत्वपूर्ण है समिति में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल हैं. वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली वित्त पर संसद की स्थायी समिति ने मसौदा रिपोर्ट में कहा कि नोटबंदी का निर्णय व्यापक प्रभाव वाला था. इससे नकदी की कमी के कारण सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में कम-से-कम एक प्रतिशत की कमी आयी और असंगठित क्षेत्र में बेरोजगारी बढ़ी.

यह भी पढ़ें: शिवसेना ने सिद्धू पर साधा निशाना, पाक आर्मी चीफ से गले मिलने पर लगाई लताड़

टिप्पणियां

भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने मसौदा रिपोर्ट का विरोध किया और इसको लेकर मोइली को असहमति का पत्र दिया, जिसका समिति में शामिल पार्टी के सभी सांसदों ने समर्थन किया. 31 सदस्यीय समिति में भाजपा सदस्य बहुमत में हैं. दुबे ने कहा था कि नोटबंदी सबसे बड़ा सुधार है. प्रधानमंत्री मोदी के इस कदम का राष्ट्र हित में देश के सभी नागरिकों ने समर्थन किया. पत्र में कहा गया है कि निर्णय से काला धन पर लगाम लगा और मुद्रास्फीति परिदृश्य बेहतर हुई.

VIDEO: राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी का पलटवार.

इस पत्र पर भाजपा के 11 अन्य सांसदों ने हस्ताक्षर किये. समिति में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता शामिल हैं जिसमें दिग्विजय सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया तथा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह शामिल हैं.(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs NZ: दीप्ती शर्मा ने मारा ऐसा बोल्ड, गुस्से में जमीन पर बैट मारने लगी बल्लेबाज, देखें Video

Advertisement