NDTV Khabar

बीजेपी ने हावड़ा में जय श्री राम बोलने पर पार्टी समर्थक की हत्या होने का लगाया आरोप

पुलिस ने 43 साल के समतुल डोलोई की मौत की पुष्टि की है जिसका शव अमता थाना क्षेत्र के सरपोता गांव में खेत में मिला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी ने हावड़ा में जय श्री राम बोलने पर पार्टी समर्थक की हत्या होने का लगाया आरोप

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. पश्चिम बंगाल में थम नहीं रहा हिंसा का दौर
  2. बीजेपी का आरोप सोमवार को भी हुई कार्यकर्ता की हत्या
  3. जय श्री राम का नारा लगा रहा था समर्थक
कोलकाता:

पश्चिम बंगाल में जय श्री राम को लेकर और राजनीतिक मतभेद के चलते बीजेपी और टीएमसी के बीच विवाद सुलझने का नाम नहीं ले रहा है. सूबे से आए दिन किसी न किसी पार्टी के कार्यकर्ताओं की हत्या का मामला सामने आ रहा है.  बीजेपी ने सोमवार को दावा किया कि हावड़ा जिले में पार्टी के एक समर्थक को ‘जय श्री राम' बोलने पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मार डाला. पुलिस ने 43 साल के समतुल डोलोई की मौत की पुष्टि की है जिसका शव अमता थाना क्षेत्र के सरपोता गांव में खेत में मिला. हालांकि मौत के कारणों पर अधिकारियों ने कुछ भी नहीं कहा. 

पश्चिम बंगाल में BJP-TMC की खींचतान के बीच ममता के समर्थन में आए शत्रुघ्न सिन्हा, कहा - इनफ इज इनफ

स्थानीय सूत्रों के अनुसार डोलोई रविवार रात एक समारोह में गया था लेकिन घर नहीं लौटा. उसका शव सोमवार को मिला जिसके गले में फंदा था. भाजपा की हावड़ा ग्रामीण इकाई के अध्यक्ष अनुपम मलिक ने दावा किया कि डोलोई उनकी पार्टी का समर्थक था और ‘जय श्री राम' बोलने पर तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने उसकी हत्या कर दी. वहीं तृणमूल कांग्रेस के विधायक समीर पांजा ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि निष्पक्ष जांच के बाद ही सच सामने आएगा.


पश्चिम बंगाल में जारी हिंसा को केंद्र ने बताया ममता सरकार की नाकामी, गृह मंत्रालय ने एक्शन लेने को कहा

बता दें रविवार शाम को भी बशीरहाट के हथगछिया इलाके में हुई हिंसा में बीजेपी के दो कार्यकर्ताओं की मौत हुई है.  गांव वालों का कहना है कि मारे गए लोग बीजेपी से जुड़े थे. वहीं पीड़ित परिवार का आरोप है कि उनके लोगों को तृणमूल कांग्रेस के लोगों ने मारा है. इस झड़प में एक तृणमूल से जुड़े एक व्यक्ति की भी मौत हुई.

पश्चिम बंगाल में TMC-BJP कार्यकर्ताओं के बीच झड़प, 3 की मौत, पुलिस ने शुरू की जांच

टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच जारी हिंसक झड़पों के बीच राज्य सरकार को केंद्र ने जल्द शांति बहाल करने का निर्देश भी दिया है. इसके बाद ममता सरकार ने केन्द्र को पत्र लिख कर कहा है कि राज्य में लोकसभा चुनाव के बाद झड़प की छिटपुट घटनाएं हुई हैं, लेकिन स्थिति ‘नियंत्रण में' है. आपको बता दें कि तृणमूल कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हिंसा में शनिवार को चार लोगों के मारे जाने के बाद केंद्र ने एक परामर्श जारी किया था. जिस पर राज्य सरकार ने यह जवाब दिया है. (इनपुट-भाषा)

टिप्पणियां

वीडियो: बंगाल में मचे बवाल के पीछे आखिर वजह क्‍या है...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement