BJP की सहयोगी पार्टी SAD राज्यसभा में मोदी सरकार के इस बिल का करेगी विरोध

पार्टी ने एक बयान में कहा कि अंतर-राज्यीय नदी जल विवाद (संशोधन) विधेयक का विरोध करने का फैसला पार्टी की कोर समिति की दिल्ली में हुई आपात बैठक में किया गया.

BJP की सहयोगी पार्टी SAD राज्यसभा में मोदी सरकार के इस बिल का करेगी विरोध

पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने यह बैठक बुलाई थी.

नई दिल्ली:

भाजपा की सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल ने रविवार को घोषणा की कि वह राज्यसभा में अंतर राज्यीय जल विवाद विधेयक का विरोध करेगी क्योंकि यह अपने मौजूदा रूप में पंजाब के हितों के खिलाफ है. पार्टी ने एक बयान में कहा कि अंतर-राज्यीय नदी जल विवाद (संशोधन) विधेयक का विरोध करने का फैसला पार्टी की कोर समिति की दिल्ली में हुई आपात बैठक में किया गया. पार्टी अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने यह बैठक बुलाई थी. 

बयान में कहा गया है, ‘सर्वसम्मति से यह फैसला किया गया कि विधेयक पंजाब के लोगों के हितों के खिलाफ है. पार्टी सोमवार को प्रधानमंत्री तथा केंद्रीय जल शक्ति मंत्री को इस बात से अवगत कराएगी तथा उनसे इस विधेयक को मौजूदा रूप में राज्यसभा में पेश ना करने का अनुरोध करेगी.'

राज्यसभा में ट्रिपल तलाक बिल पास होने पर खुशी मना रही महिला को पति ने दिया 'तलाक'

बता दें, इससे पहले भाजपा की सहयोगी पार्टी जदयू ने मोदी सरकार के तीन तलाब बिल का विरोध किया था. मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में तीन तलाक बिल संसद से पारित करवाया है. लोकसभा में जब मोदी सरकार ने तीन तलाक बिल पेश किया तो जदयू ने विरोध करते हुए सदन से वॉकआउट कर दिया. लोकसभा से पास के बाद जब बिल राज्यसभा पहुंचा तो वहां भी जदयू ने सदन से वॉकआउट कर दिया. हालांकि, राज्यसभा में जदयू के वॉकआउट करने से मोदी सरकार को फायदा पहूंचा है. मोदी सरकार को बिल पास कराने के लिए जो बहुमत हासिल करना था, वह कम हो गया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मोदी सरकार ने 1486 पुराने कानूनों को समाप्त किया

VIDEO: मोटर व्हीकल संशोधन बिल पास



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)