यूपी में BJP और JDU की राहें जुदा, विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी नीतीश कुमार की पार्टी

जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बीजेपी से अलग होकर अकेले लड़ने का फैसला किया है. जनता दल यूनाइटेड की नेशनल कमेटी में सर्वसम्मति से यह फैसला किया गया.

यूपी में BJP और JDU की राहें जुदा, विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी नीतीश कुमार की पार्टी

PM मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार - फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जनता दल यूनाइटेड (JDU) ने 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बीजेपी से अलग होकर अकेले लड़ने का फैसला किया है. जनता दल यूनाइटेड की नेशनल कमेटी में सर्वसम्मति से यह फैसला किया गया. JD(I) के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने एनडीटीवी से कहा, ''2017 में हमने यूपी में चुनाव नहीं लड़ा था, इससे पार्टी को काफी नुकसान हुआ.''

हिंसा में घायल हुए SHO ने सुनाई आपबीती, कहा-किसानों के पास थे हथियार

केसी त्यागी ने कहा, ''हमारे पार्टी की नेशनल कमिटी ने सर्वसम्मति से यह तय किया है कि यूपी बिहार से जुड़ा राज्य है जहां हमारी सरकार की नीतियों का अच्छा प्रचार प्रसार हुआ है. इसलिए हमें अकेले 2022 में यूपी में विधानसभा चुनाव लड़ना चाहिए. मुझे उसकी जिम्मेदारी दी गई है. यूपी में अकेले चुनाव लड़ने के फैसले का बिहार के पॉलिटिकल घटनाक्रम से कोई वास्ता नहीं है. यद्यपि बिहार में सब कुछ ठीक है. ''

उन्होंने दिल्ली में हुए ट्रैक्टर रैली हिंसा को लेकर कहा कि कल (मंगलवार) की घटना निंदनीय है. यह गांधी जी के सत्याग्रह के सिद्धांत के बेसिक स्पिरिट के खिलाफ है.''

Newsbeep

कांग्रेस ने केंद्र पर साधा निशाना, 'हिंसा के लिए सीधे तौर पर अमित शाह जिम्‍मेदार, उन्‍हें बर्खास्‍त करें PM'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


JD(I) के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने किसान संगठनों को एक सुझाव दिया है. उन्होंने कहा, ''किसान आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए आवश्यक है कि किसान संगठन के नेता 30 जनवरी को गांधी जी की शहीदी दिवस के दिन उनकी समाधि पर जाकर 1 दिन का अनशन और प्रायश्चित करें. हिंसा दोबारा ना हो इससे उनके जो सवाल हैं उसको और मजबूती मिलेगी और देश के बड़े हिस्से की हमदर्दी भी उनके साथ होगी. कल पुलिस ने अगर संयम नहीं दिखाया होता तो हालात और बुरे हो सकते थे.''