Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

राज्यसभा उपचुनाव: विदेश मंत्री जयशंकर समेत बीजेपी के दोनों उम्मीदवारों को मिली जीत

विदेश मंत्री एस जयशंकर और एक अन्य बीजेपी उम्मीदवार जुगलजी ठाकोर शुक्रवार को उपचुनाव में गुजरात से राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए. मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने यहां यह घोषणा की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राज्यसभा उपचुनाव: विदेश मंत्री जयशंकर समेत बीजेपी के दोनों उम्मीदवारों को मिली जीत

गुजरात से राज्यसभा की दो सीटें अमित शाह और स्मृति ईरानी के लोकसभा के लिए निर्वाचित होने के बाद खाली हुई थीं

नई दिल्ली:

विदेश मंत्री एस जयशंकर और एक अन्य बीजेपी उम्मीदवार जुगलजी ठाकोर शुक्रवार को उपचुनाव में गुजरात से राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए. मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने यहां यह घोषणा की. चुनाव आयोग के सूत्रों ने इस चुनाव परिणाम की पुष्टि की है जिसकी घोषणा निर्वाचन अधिकारी द्वारा रिपोर्ट देने के बाद ही आधिकारिक रूप से की जाएगी. जयशंकर को 104 वोट मिले और ठाकोर को 105. कांग्रेस उम्मीदवारों- चंद्रिका चूड़ासामा और गौरव पांड्या को 70-70 वोट मिले. पूर्व विदेश सचिव जयशंकर को नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किये जाने के बाद संसद में निर्वाचित होना जरूरी हो गया था. 

Budget 2019: गृह मंत्रालय को मिले 1.19 लाख करोड़ रुपये, पिछले साल के मुकाबले इतनी हुई बढ़ोतरी

गुजरात से राज्यसभा की दो सीटें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के लोकसभा के लिए निर्वाचित होने के बाद खाली हुई थीं. रूपानी ने संवाददाताओं से कहा कि हमारे दोनों उम्मीदवार भारी मतों से विजयी हुए है. कांग्रेस ने बाधा खड़ी करने की कोशिश की और वह उच्चतम न्यायालय तक गयी लेकिन वह (अपनी कोशिशों में) विफल रही. चुनाव आयोग के एक अधिकारी ने कहा कि जयशंकर और ठाकोर को जरूरत से अधिक वोट मिले. उन्होंने कहा कि लेकिन प्रक्रिया के तहत दिल्ली में ही चुनाव आयोग निर्वाचन अधिकारी से रिपोर्ट मिलने के बाद ही अंतिम परिणाम की घोषणा कर सकता है. जयशंकर और ठाकोर को भाजपा के 100 विधायकों के अलावा राकांपा के एक विधायक, भारतीय ट्रायबल पार्टी के दो और कांग्रेस के दो असंतुष्ट विधायकों अल्पेश ठाकोर और जाला के वोट मिले हैं. 


सीबीआई के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव का तबादला, अब मिली इस विभाग की जिम्मेदारी

मतदान के तत्काल बाद अल्पेश ठाकोर और जाला ने कांग्रेस के विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था. कांग्रेस ने चुनाव आयोग से अल्पेश और जाला के मतों को रद्द करने को कहा क्योंकि उन्होंने व्हिप की अवहेलना करते हुए पार्टी के उम्मीदवार के खिलाफ मतदान किया है. लेकिन मतगणना शुरू होने के पहले निर्वाचन आयोग ने उनकी अर्जी खारिज कर दी. चूंकि दोनों सीटों के लिए मतदान अलग अलग हुए हैं इसलिए प्रत्येक उम्मीदवार को जीतने के लिए 50 प्रतिशत वोट चाहिए. जयशंकर ने अपनी जीत के लिए भाजपा के केन्द्रीय और राज्य नेतृत्व का शुक्रिया अदा किया है. 

सीबीआई के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव का तबादला, अब मिली इस विभाग की जिम्मेदारी

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय का गुजरात की जनता के साथ विशेष संबंध हैं क्योंकि इस राज्य के लोग बड़ी संख्या में विदेशों में बसे हैं. अब मैं गुजरात से प्रतिनिधि बन कर राज्य की जनता के साथ संपर्क बढ़ाना चाहता हूं. राज्य भाजपा प्रमुख जीतू वघानी ने कहा कि यूपीए की सहयोगी पार्टियों और कांग्रेस ने भी भाजपा को वोट दिया है. दो सीटों के लिए अलग चुनाव कराने के फैसले के खिलाफ कांग्रेस के उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था लेकिन न्यायालय ने दखल देने से इनकार कर दिया. 182 सदस्यों वाली गुजरात विधानसभा में 175 सदस्य मतदान के योग्य प्राए गए. 

Video:पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर ने ली मंत्री पद की शपथ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... बॉलीवुड एक्टर ने फिर साधा सलमान खान पर निशाना, कहा-लोग आपसे ज्यादा मुझ पर विश्वास करते हैं

Advertisement