NDTV Khabar

विदेशी चंदा : बीजेपी, कांग्रेस और AAP को ब्योरा देने के लिए 15 दिन की अतिरिक्त मोहलत

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा, कांग्रेस और आप को विदेशों से मिले चंदे के स्रोत और अन्य ब्योरा देने के लिये 15 दिन का अतिरिक्त समय दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विदेशी चंदा : बीजेपी, कांग्रेस और AAP को ब्योरा देने के लिए 15 दिन की अतिरिक्त मोहलत
नई दिल्ली : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भाजपा, कांग्रेस और आप को विदेशों से मिले चंदे के स्रोत और अन्य ब्योरा देने के लिये 15 दिन का अतिरिक्त समय दिया है. केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा, दिल्ली में सत्तारूढ़ आप और विपक्षी दल कांग्रेस को मंत्रालय की ओर से विदेशी सहायता विनियमन कानून के तहत हाल ही में जारी नोटिस में 16 मई तक जवाब देने को कहा गया था. गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि आज इन दलों को जवाब देने के लिये 15 दिन का अतिरिक्त समय दिया गया है. नोटिस के तहत इन दलों को विदेशी सहायता के रूप में निजी कंपनियों और संगठनों से मिली राशि का भी ब्योरा देना होगा.

इस बीच आप द्वारा इसे केन्द्र सरकार की ओर से बदले की भावना से की जा रही कार्रवाई करार देते हुये इसे लोकतंत्र के लिये खतरनाक बताने के बाद गृह मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि यह नोटिस हर साल सामान्य विभागीय कार्यवाही के तहत जारी किया जाता है. यह 'कारण बताओ नोटिस' से भिन्न है. मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि विदेशी सहायता मिलने के बारे में तीनों दलों का जवाब मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की रूपरेखा तय की जाएगी.

इससे पहले 9 मई को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सत्तारूढ़ भाजपा सहित अन्य दलों से विदेशों से मिले चंदे का ब्योरा मांगा था. मंत्रालय ने भाजपा के अलावा कांग्रेस और आप सहित कुछ अन्य दलों से विदेशी चंदे का स्रोत और अन्य जानकारी देने को कहा था. हालांकि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इन दलों को जारी नोटिस को विदेशी सहायता नियमन कानून (एफसीआरए) के तहत सामान्य प्रक्रिया का हिस्सा बताया था.  

एक हफ्ते पहले, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) को नोटिस भेजकर विदेशों से मिल रहे चंदे की डिटेल मांगी थी जिसको लेकर काफी हो-हल्ला हुआ था. मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को विदेशी सहायता नियमन कानून 2010 (एफसीआरए) के तहत आप को जारी नोटिस में पार्टी को विभिन्न देशों से मिले चंदे की जानकारी मांगी गई है. सूत्रों के अनुसार, नोटिस में मंत्रालय द्वारा पार्टी को इस बाबत विस्तृत जानकारी देने के लिए 16 मई तक का समय दिया गया है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement