यह ख़बर 23 मई, 2013 को प्रकाशित हुई थी

लोकायुक्त से अभ्यारोपित शीला दीक्षित पद से इस्तीफा दें : भाजपा

लोकायुक्त से अभ्यारोपित शीला दीक्षित पद से इस्तीफा दें : भाजपा

खास बातें

  • भाजपा ने गुरुवार को मांग की कि दिल्ली के लोकायुक्त द्वारा मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को कथित रूप से सरकारी कोष का दुरुपयोग करने के मामले में अभ्यारोपित किए जाने को देखते हुए उन्हें तुरंत अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।
नई दिल्ली:

भाजपा ने गुरुवार को मांग की कि दिल्ली के लोकायुक्त द्वारा मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को कथित रूप से सरकारी कोष का दुरुपयोग करने के मामले में अभ्यारोपित किए जाने को देखते हुए उन्हें तुरंत अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए।

पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार मल्होत्रा ने यहां कहा कि दिल्ली के लोकायुक्त ने मुख्यमंत्री शीला दीक्षित को वर्ष 2008 में हुए विधानसभा चुनावों से पूर्व राजनीतिक बढ़त हासिल करने के मकसद से विज्ञापन प्रचार कार्यक्रम चलाने के लिये सरकारी कोष का कथित दुरुपयोग करने के मामले में अभ्यारोपित किया है।

मल्होत्रा ने आरोप लगाया, ‘‘पिछले तीन वर्षों में भी मुख्यमंत्री ने प्रतिवर्ष सौ करोड़ रुपये प्रचार पर खर्च किए हैं और पिछले दो महीनों में वह अपनी और अपनी सरकार की धूमिल हो चुकी छवि को बचाने के लिए 2008 के चुनाव के इतिहास को फिर से दोहरा रही हैं। वह दिल्ली की जनता की गाढ़ी कमाई के करोड़ों रुपयों को विज्ञापनों और होर्डिंग्स में व्यय कर रही हैं।’’

उन्होंने मांग की कि दीक्षित को तत्काल अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए और 2008 में कथित रूप से दुरुपयोग किए गए रुपयों को सरकारी खजाने में जमा कराना चाहिए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दिल्ली के लोकायुक्त ने मुख्यमंत्री को 2008 के विधानसभा चुनावों से पहले राजनीतिक बढ़त हासिल करने के मकसद से विज्ञापन प्रचार कार्यक्रम चलाने के लिये कथित रूप से सरकारी कोष का दुरुपयोग करने के मामले में अभ्यारोपित किया है।