NDTV Khabar

यूपी में भाजपा सरकार के दौर में किसी मां के लाल की हिम्मत नहीं थी कि उंगली उठाए कि भ्रष्टाचार है : राजनाथ

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में भाजपा सरकार के दौर में किसी मां के लाल की हिम्मत नहीं थी कि उंगली उठाए कि भ्रष्टाचार है : राजनाथ

राजनाथ सिंह.

खास बातें

  1. झांसी में बीजेपी की परिवर्तन यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत
  2. भ्रष्टाचार को लेकर सपा और बसपा को बनाया निशाना
  3. बुंदेलखंड के औद्योगिक विकास का आश्वासन
झांसी: केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति को बदतर बताते हुए  कहा कि अगले विधानसभा चुनाव के बाद यदि भाजपा की सरकार बनी तो जनता को इंसाफ पाने से कोई रोक नहीं सकता.

राजनाथ ने झांसी में सोमवार को परिवर्तन यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत के मौके पर कहा, ‘‘प्रदेश में गुंडे बदमाशों का राज है. कानून व्यवस्था बद से बदतर हो चुकी है. भाजपा कार्यकर्ताओं पर झूठे मुकदमे ठोके गए हैं. आप उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार आने दो, आपको कोई मां का लाल इंसाफ पाने से नहीं रोक सकता. यह विश्वास दिलाना चाहता हूं. झूठे मुकदमे वापस लिए जाएंगे.’’ भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि जब उत्तर प्रदेश में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार थी तो किसी मां के लाल की हिम्मत नहीं थी कि उंगली उठाकर कह दे कि भ्रष्टाचार का कोई दाग है. ‘‘क्या कारण है हमारे दामन पर कोई दाग नहीं लगता जब हमारी पार्टी के मुख्यमंत्री रहते हैं. आप (सपा-बसपा) जब होते हैं तो आप पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते हैं. ढाई साल गुजर गए क्या आपने पढ़ा है कि हमारे प्रधानमंत्री या सरकार पर एक भी भ्रष्टाचार का आरोप लगा हो.’’

राजनाथ सिंह ने कहा कि इससे पहले कांग्रेस की सरकार रही है. तब भी भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं. लाखों करोड़ रुपये के घोटाले हुए हैं. ‘‘मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि आजाद भारत के इतिहास में भारत का मस्तक ऊंचा करने का काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया.’’

राजनाथ सिंह ने कहा कि किसान पसीना बहाकर गेहूं और धान उगाता है लेकिन वर्तमान सपा सरकार उसकी खरीद नहीं करती. जब प्रदेश में भाजपा की सरकार थी तो अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश था कि जो भी किसान गेहूं या धान बेचना चाहे, उससे एक-एक पाई की खरीद की जाए. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में दुनिया के दूसरे देशों से पूंजी निवेश आना चाहिए लेकिन वह नहीं हो पा रहा है. हम चाहते हैं कि प्रदेश में बुंदेलखंड का भी औद्योगिक विकास हो ताकि नौजवानों को रोजगार मिले लेकिन जब तक कानून व्यवस्था सही नहीं होगी, बाहर से किसी भी सूरत में पूंजी नहीं आएगी और उद्योग नहीं खड़े होंगे तो स्वाभाविक रूप से नौजवानों को रोजगार नहीं मिल पाएगा.

राजनाथ ने बिजली संकट का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रदेश में पर्याप्त रूप से बिजली आपूर्ति नहीं हो रही है. परिवर्तन यात्रा के दूसरे चरण में आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ के अलावा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र, उमा भारती, भाजपा उपाध्यक्ष ओम माथुर और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद थे.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement