NDTV Khabar

पीएम मोदी और योगी आदित्यनाथ होंगे गुजरात में स्टार प्रचारक, बीजेपी ने किया साफ

171 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी और योगी आदित्यनाथ होंगे गुजरात में स्टार प्रचारक, बीजेपी ने किया साफ

गुजरात के स्टार प्रचारकों में पीएम मोदी के साथ योगी आदित्यनाथ भी

नई दिल्ली: यूपी चुनाव के खत्म होते ही बीजेपी अब गुजरात चुनाव की तैयारियों में जुट गई है. गुजरात में स्टारप्रचारकों की सूची में योगी आदित्यनाथ का नाम शामिल है. गुजरात में दिसंबर में चुनाव होने की बात कही जा रही है. दरअसल, 44 साल के योगी आदित्यनाथ को दो हफ्ते पहले बीजेपी ने अचानक यूपी का सीएम घोषित कर दिया था. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वघानी ने इस बात की पुष्टि की है कि प्रचार के लिए बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों को बुलाया जा रहा है तो उनमें योगी आदित्यनाथ भी शामिल हैं.  हालांकि पार्टी का मानना है कि पीएम मोदी की स्टार पावर का मुकाबला नहीं है. यूपी की जीत में पीएम नरेंद्र मोदी के महत्वपूर्ण योगदान का जिक्र करते हुए भरत पांड्या ने कहा कि पीएम मोदी का प्रधानमंत्री बनना गुजरात के लोगों के लिए गर्व का विषय रहा है. पीएम मोदी की लहर की काफी है.

गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री के तौर पर किए जा रहे कामों को लेकर चर्चा में बने हुए हैं. सूत्रों के मुताबिक- गुजरात बीजेपी का मानना है कि योगी आदित्यनाथ के गुजरात में प्रचार करने से पार्टी को फायदा होगा. गौरतलब है कि जब से योगी आदित्यनाथ ने यूपी की सत्ता संभाली है धड़ाधड़ कई बड़े फैसले लिए हैं. फिर चाहे वह पुलिस महकमे पर सख्ती हो या अवैध बूचड़खानों पर कार्रवाई. हालांकि बूचड़खानों पर कार्रवाई के कदम को मुस्लिम विरोधी कहकर उनका विरोध भी किया जा रहा है. मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ लखनऊ के थाने का औचक दौरा करते दिखे और साथ ही वह अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवर फ्रंट पर भी काम का जायजा लेने पहुंचे. यहां उन्होंने अफसरों से पूछा भी कि इस प्रोजेक्ट की लागत क्यों बढ़ रही है. इसकी समय सीमा बताएं. वह गैंगरेप पीड़िता से मिलने अस्पताल भी पहुंचे. उन्होंने घोषणा भी की कि उनका प्रशासन धर्म और जाति के आधार पर किसी भी तरह का भेदभाव नहीं करेगा. वह अपने इस तरह के कामों से एक तरह का मैसेज देने की कोशिश भी कर रहे हैं कि अब काम में कोई कोताही नहीं बरती चाहिए. गुजरात बीजेपी का मानना है कि यूपी और यूपी की राजनीति इतनी बड़ी है कि वहां के मुख्यमंत्री गुजरात वोटरों को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं.

उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में जबर्दस्त जीत से उत्साहित भाजपा ने गुजरात, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक और पूर्वोत्तर के कुछ राज्यों में इस सफलता को दोहराने के लिए कमर कसते हुए  गुजरात को भाजपा युक्त और कर्नाटक एवं हिमाचल प्रदेश को कांग्रेस मुक्त’’ बनाने का नारा दिया है. गुजरात और हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत तक चुनाव होने वाले हैं जबकि कर्नाटक में चुनाव अगले साल होंगे. त्रिपुरा में चुनाव अगले साल के प्रारंभ में होंगे. गुजरात में भाजपा 19 साल से सत्ता में है और लम्बे अरसे बाद पहली बार नरेन्द्र मोदी के चेहरे के बिना पार्टी चुनाव में उतरेगी. 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा के लिए होने वाले चुनाव में भाजपा ने ‘मिशन 150’ का लक्ष्य बनाया है. सैन ने कहा कि गुजरात ने नरेन्द्र मोदी को कई बार मुख्यमंत्री बनाया और आज उसी गुजरात के मोदी देश के प्रधानमंत्री हैं. पूरे देश में नरेन्द्र मोदी को जनादेश मिला है. गुजरात का विकास का मॉडल लोगों के सामने हैं । ऐसे में निश्चित तौर पर भाजपा गुजरात में जीत का रिकार्ड दोहराएगी.
(इनपुट्स एजेंसी से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement