NDTV Khabar

महाराष्ट्र में बीजेपी 25 मई से शुरू करेगी 'संवाद यात्रा'

उन्होंने कहा, ‘अगर आज हम कड़ी मेहनत करते हैं और लोगों के साथ अच्छा संपर्क बनाते हैं तो अगले चुनाव में यह हमारे लिए आसान होगा '. फडनवीस ने पिछले महीने कहा था कि विपक्ष अपनी ‘संघर्ष यात्रा’ के जरिए लोगों तक पहुंचने में असफल रहा.

26 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र में बीजेपी 25 मई से शुरू करेगी 'संवाद यात्रा'

प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई:

बीजेपी विपक्ष के ‘संघर्ष’ अभियान का जवाब देने के लिए राज्य में किसानों सहित अन्य वर्गों तक पहुंचने के लिए 25 मई से ‘संवाद यात्रा’ शुरू करेगी. महाराष्ट्र बीजेपी प्रमुख रावसाहेब दानवे ने आज बताया कि प्रदेश में यह 15 दिन की लंबी यात्रा होगी.

उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस और मैं दो अलग स्थानों से यात्रा शुरू करेंगे ताकि हम राज्य के बड़े हिस्से तक पहुंच सकें. उन्होंने कहा, ‘हमलोग किसानों से उनके खेतों में मिलेंगे, उनके साथ बातचीत करेंगे और राज्य सरकार द्वारा उनके लाभ के लिए बनाई गई योजनाओं और प्रावधानों पर उनकी तरफ से पूछे गए प्रश्नों का उत्तर देने का प्रयास करेंगे. दानवे ने कहा कि विधायक और राज्य में बीजेपी के सभी निर्वाचित प्रतितिनिधि अपने क्षेत्रों में इस यात्रा में हिस्सा लेंगे.

उन्होंने कहा, ‘अगर आज हम कड़ी मेहनत करते हैं और लोगों के साथ अच्छा संपर्क बनाते हैं तो अगले चुनाव में यह हमारे लिए आसान होगा '. फडनवीस ने पिछले महीने कहा था कि विपक्ष अपनी ‘संघर्ष यात्रा’ के जरिए लोगों तक पहुंचने में असफल रहा.


उन्होंने कहा, ‘इस राज्य के लोग संघर्ष यात्रा पर प्रतिक्रिया नहीं दे रहे हैं क्योंकि उनका विश्वास हममें है और लोग हमारी तरफ से संवाद की आशा कर रहे हैं.’ फडनवीस ने कहा, ‘इसलिए, हम लोगों तक पहुंचने के लिए अभियान शुरू कर रहे हैं, जिसमे पार्टी के कार्यकर्ता लोगों से संपर्क करेंगे. राज्य के 25 लाख किसानों तक पहुंचने का लक्ष्य रखा गया है.’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘जैसा कि विपक्ष अपनी यात्रा को संघर्ष यात्रा कह रहा है, हम अपनी यात्रा को संवाद यात्रा कहेंगे.’ हाल ही में विपक्षी पार्टी कांग्रेस और राकांपा ने किसानों की कर्जमाफी को लेकर उनके साथ एकता जताने के लिए ‘संघर्ष यात्रा’ का आयोजन किया था.

टिप्पणियां

इस अभियान के तहत दोनों पार्टियों के नेताओं ने किसानों के साथ कई स्थानों पर बैठकें की और सार्वजनिक सभाओं को संबोधित किया था.विपक्षी पार्टी ने कुछ दिन पहले दानवे द्वारा की गई अपमानजनक टिप्पणी ‘तुअर की दाल’ उगाने वाले के लिए उनकी आलोचना की है.हालांकि दानवे ने कल अपनी बात पर खेद जताते हुए कहा था कि वह हमेशा ही किसानों के हमदर्द रहे हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement