BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कसा तंज, बोले- कोरोना के डर से एक बालक...

बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा था कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को भी कोरोना वायरस की वजह से अपनाई जाने वाली अलग-थलग रहने की प्रक्रिया से गुजरना चाहिए.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कसा तंज, बोले- कोरोना के डर से एक बालक...

कैलाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी का नाम लिए बिना साधा निशाना (फाइल फोटो)

खास बातें

  • बीजेपी नेता ने राहुल गांधी का नाम लिए बैगर साधा निशाना
  • पहले भी कई बीजेपी नेता राहुल के इटली जाने पर उठा चुके हैं सवाल
  • कांग्रेस ने दी थी सफाई
नई दिल्ली:

कोरोना वायरस का खतरा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है. सरकार और स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार कोरोना वायरस की स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं. इस बीच, बीजेपी के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिए बिना ट्वीट के जरिए उनपर तंज कसा है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- "बूझो तो जाने !!! कोरोना के डर से एक बालक छुट्टियां मनाने अपनी नानी के घर न जा सका!" इससे पहले भी बीजेपी के कई नेता राहुल गांधी के इटली जाने पर निशाना साध चुके हैं. हाल में बीजेपी के एक सांसद ने राहुल गांधी के इटली से लौटने की वजह से उन्हें कोरोना वायरस का टेस्ट कराने के लिए कहा था. 

इससे पहले, दिल्ली से बीजेपी सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा था कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को भी कोरोना वायरस की वजह से अपनाई जाने वाली अलग-थलग रहने की प्रक्रिया से गुजरना चाहिए और अपनी जांच करानी चाहिए. बिधूडी ने संसद के बाहर राहुल गांधी को अन्य कांग्रेसी नेताओं के साथ देखे जाने के बाद कहा, "राहुल गांधी हाल ही में इटली से लौटे हैं.  मुझे नहीं पता हवाईअड्डे पर उनकी जांच की गई या नहीं. उन्हें अपना मेडिकल चेकअप कराना चाहिए, ताकि पता चल सके कि वह इस जानलेवा वायरस से संक्रमित हैं या नहीं."

बीजेपी नेताओं द्वारा सवाल खड़े किए जाने के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी की कोरोना वायरस जांच को लेकर कांग्रेस ने सफाई दी थी. कांग्रेस ने कहा कि 29 फरवरी को इटली से भारत लौटते समय दिल्ली एयरपोर्ट पर राहुल गांधी की जांच की गई थी. राहुल गांधी ने कोरोना वायरस को लेकर सरकार को घेरा था. राहुल ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन की तुलना टाइटेनिक के कप्तान से की थी. 

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस के पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 142 हो गई है. सरकार की तरफ से जारी एक अतिरिक्त यात्रा परामर्श के मुताबिक, सरकार ने अफगानिस्तान, फिलिपीन और मलेशिया से आने वाले यात्रियों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है. इससे पहले सोमवार को सरकार ने यूरोपीय संघ के देशों, तुर्की और ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के प्रवेश पर 18 से 31 मार्च तक रोक लगा दी थी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com