आडवाणी ने प्रणब मुखर्जी की तारीफ में पढ़े कसीदे, बोले- उनका RSS मुख्यालय जाना इतिहास की महत्वपूर्ण घटना

भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के आरएसएस मुख्यालय जाने और भारतीय राष्ट्रवाद पर विचार व्यक्त करने को देश के समसामयिक इतिहास की ‘‘महत्वपूर्ण घटना’’ बताया.

आडवाणी ने प्रणब मुखर्जी की तारीफ में पढ़े कसीदे, बोले- उनका RSS मुख्यालय जाना इतिहास की महत्वपूर्ण घटना

भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • अडवाणी ने प्रणब मुखर्जी की तारीफ पढ़े कसीदे
  • बोले- उनका RSS मुख्यालय जाना इतिहास की महत्वपूर्ण घटना
  • अडवाणी ने उनके भाषण की भी तारीफ की
नई दिल्ली:

भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के आरएसएस मुख्यालय जाने और भारतीय राष्ट्रवाद पर विचार व्यक्त करने को देश के समसामयिक इतिहास की ‘‘महत्वपूर्ण घटना’’ बताया और कहा कि इस प्रकार खुलेपन की भावना और आपसी सम्मान के साथ विचारों के आदान प्रदान से सहिष्णुता और सौहार्द की भावना तैयार करने में मदद मिलेगी. आडवाणी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का निमंत्रण स्वीकार करने के लिये प्रणब मुखर्जी और उन्हें आमंत्रित करने के लिये सरसंघचालक मोहन भागवत की सराहना की. प्रणब मुखर्जी कांग्रेस से कई दशकों तक जुड़े रहे. भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि दोनों के विचार अपने आप में महत्वपूर्ण विषय को परिलक्षित करते हैं. 

यह भी पढ़ें: प्रणब मुखर्जी की Fake फोटो पर RSS ने कहा, ‘यह संघ को बदनाम करने की घटिया चाल’

आरएसएस के आजीवन स्वयंसेवक आडवाणी ने कहा कि उनका मानना है कि प्रणब मुखर्जी और भागवत ने विचारधाराओं एवं मतभेदों से परे संवाद का सही अर्थो में सराहनीय उदाहरण पेश किया है. उन्होंने कहा कि दोनों ने भारत में एकता के महत्व को रेखांकित किया जो बहुलतावाद समेत सभी तरह की विविधता को स्वीकार एवं सम्मान करती है. आडवाणी ने मोहन भागवत की ओर से वार्ता के माध्यम से देश के विभिन्न वर्गो तक पहुंच बनाने के प्रयासों की सराहना की. भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘ इस प्रकार खुलेपन की भावना और आपसी सम्मान के साथ विचारों के आदान प्रदान से सहिष्णुता, सौहार्द और सहयोग की भावना तैयार करने में मदद मिलेगी जो हमारे साझा सपनों के भारत के निर्माण में सहायक होगा.’’

VIDEO: नफ़रत-असहनशीलता सिर्फ़ तोड़ेगी : संघ के कार्यक्रम में बोले प्रणब मुखर्जी
प्रणब मुखर्जी की सराहना करते हुए आडवाणी ने कहा कि उन्होंने आरएसएस का निमंत्रण स्वीकार करके विनम्रता और सदाचार का परिचय दिया है. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक जीवन में उनके लम्बे और व्यापक अनुभव ने उन्हें एक राजनेता बनाया है जो विभिन्न विचारधाराओं और राजनीतिक पृष्ठभूमि के लोगों के बीच चर्चा परिचर्चा एवं सहयोग की जरूरत को समझता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com