सुशील मोदी ने राज्यसभा उपचुनाव के लिए भरा पर्चा, साथ में नीतीश समेत NDA के कई बड़े नेता

विपक्षी महागठबंधन की तरफ से इस उप चुनाव में अभी तक किसी भी उम्मीदवार को उतारने की चर्चा नहीं है. हालांकि, राजद की तरफ से ऑफर दिया गया था कि अगर लोजपा रामविलास पासवान की पत्नी रीना पासवान को चुनावी मैदान में उतारती है तो राजद उनका समर्थन करेगा लेकिन लोजपा ने इस ऑफर को ठुकरा दिया.

सुशील मोदी ने राज्यसभा उपचुनाव के लिए भरा पर्चा, साथ में नीतीश समेत NDA के कई बड़े नेता

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने आज राज्य सभा उप चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया.

पटना:

बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने (Sushil Kumar Modi) आज राज्य सभा उप चुनाव के लिए अपना नामांकन पत्र दाखिल किया. इस मौके पर उनके साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) समेत बिहार एनडीए के कई बड़े नेता मौजूद थे. पटना कमिश्नरी ऑफिस में नामांकन पत्र दाखिल करते समय बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, जेडीयू नेता और पूर्व मंत्री श्रवण कुमार. हम अध्यक्ष और पूर्व सीएम जीतनराम मांझी के अलावा कई पूर्व मंत्री भी मौजूद थे. सभी नेताओं ने सुशील मोदी को जीत की अग्रिम बधाई दी है.

ये सीट लोजपा नेता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से खाली हुई थी. साल 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद रामविलास पासवान राज्यसभा से संसद भेजे गए थे और केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार-2 में केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता मंत्री बनाए गए थे. चर्चा है कि राज्यसभा से संसद पहुंचने के बाद सुशील मोदी केंद्र सरकार में मंत्री बनाए जा सकते हैं. चर्चा इस बात की भी है कि उन्हें पासवान का ही मंत्रालय दिया जा सकता है.

सुशील मोदी पर नीतीश कुमार ने कहा- उनकी कमी खलेगी, लेकिन "फैसला बीजेपी का"

विपक्षी महागठबंधन की तरफ से इस उप चुनाव में अभी तक किसी भी उम्मीदवार को उतारने की चर्चा नहीं है. हालांकि, राजद की तरफ से ऑफर दिया गया था कि अगर लोजपा रामविलास पासवान की पत्नी रीना पासवान को चुनावी मैदान में उतारती है तो राजद उनका समर्थन करेगा लेकिन लोजपा ने इस ऑफर को ठुकरा दिया.


रामविलास पासवान की राज्यसभा सीट BJP ने LJP से छीनी, बिदके चिराग पासवान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस सीट पर नामांकन की अंतिम तारीख तीन दिसंबर है. अगर जरूरी हुआ तो 14 दिसंबर को चुनाव कराया जाएगा.