NDTV Khabar

मध्‍यप्रदेश उपचुनाव: यशोधरा राजे का विवादित बयान, हमें वोट नहीं दिया तो उज्‍ज्‍वला योजना का लाभ नहीं मिलेगा

कोलारस विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के क्षेत्र में आता है. बीजेपी की तरफ से ज्योतिरादित्य की बुआ यशोधरा राजे सिंधिया मोर्चा खोले हुये हैं. यह चुनाव सिधिया बनाम सिधिया एक तरह से बना हुआ है. लेकिन यहां बड़ा सवाल ये है कि यशोधरा राजे ने जो बयान दिया है वो सीधे-सीधे चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है्. ऐसे में क्या इस मामले में किसी तरह की कोई कार्रवाई होगी?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मध्‍यप्रदेश उपचुनाव: यशोधरा राजे का विवादित बयान, हमें वोट नहीं दिया तो उज्‍ज्‍वला योजना का लाभ नहीं मिलेगा

मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया

खास बातें

  1. 24 फरवरी को कोलारस विधानसभा उप-चुनाव के लिए मतदान होना है
  2. कोलारस विधानसभा कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य के क्षेत्र में आता है
  3. यह चुनाव सिधिया बनाम सिधिया एक तरह से बना हुआ है.
भोपाल: मध्य प्रदेश में बीजेपी सरकार की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कोलारस में प्रचार से सियासी कोलाहल मचा दिया है. मंत्रीजी ने वोटरों से कहा कि सरकारी योजना का फायदा कमल पर बटन दबाने वालों को ही मिलेगा, पंजे पर नहीं. बयान सामने आने के बाद पार्टी ने सफाई में कहा कि यशोधरा का मतलब धमकाना नहीं समझाना था कि बीजेपी विधायक के चुने जाने से तालमेल बेहतर होगा. वहीं कांग्रेस की शिकायत पर चुनाव आयोग ने यशोधरा राजे से जवाब मांगा है. कोलारस में प्रचार के दौरान यशोधरा राजे ने पूछा था, 'मैं जगह-जगह सूची लेकर जा रही हूं. यह जिस तरह से आपके बीच आना चाहिये नहीं आ रहा क्योंकि आपने पंजे को वोट दिया. चूल्हे की योजना क्यों नहीं आई. भारतीय जनता पार्टी कमल की योजना है, पंजे में वोट दोगे आपके पास आएगी नहीं ... सीधी बात है.'

BJP को मिला नया दफ्तर, पीएम मोदी ने कहा- हमारी पार्टी राष्‍ट्र भक्ति के लिए प्रतिबद्घ है

यशोधरा के चुनावी प्रचार का ये तेवर कांग्रेस को अखर गया है. पार्टी ने चुनाव आयोग में शिकायत की, साथ ही पार्टी की मांग है कि यशोधरा को बर्खास्त किया जाय. यूथ कांग्रेस अध्यक्ष कुणाल चौधरी ने कहा, "ये उनकी भाषा नहीं है, ये शिवराज सिंह चौहान की भाषा है. ये डर की राजनीति करते हैं. हमारी मांग है कि इन्हें फौरन बर्खास्त किया जाए. इनका भरोसा लोकतंत्र में नहीं है." वहीं बीजेपी का कहना है कि यशोधरा से कांग्रेस डर गई है इसलिये उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है.

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव : माणिक सरकार को सत्ता के सिंहासन से हटा पाएगी बीजेपी?- 10 बातें

बीजेपी प्रवक्ता और भारतीय जनता युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष राहुल कोठारी ने कहा, "ज्योतिरादित्य सिंधिया हवाई नेतागिरी करते हैं. दोनों के बीच जो कड़ा मुकाबला हुआ है उससे कांग्रेस घबरा गई है. यशोधराजी के कहने का तात्पर्य इतना ही था कि पार्टी का विधायक होता है तो जनता को लाभ जल्दी मिलता है." बीजेपी ने कोलारस में रणनीतिक तौर पर ज्योतिरादित्य के मुकाबले प्रचार के लिये उनकी बुआ यशोधरा के हाथ में कमान दी है. कोलारस-मुंगावली दो उपचुनावों में परीक्षा 24 फरवरी को होगी जो ज्योतिरादित्य के संसदीय क्षेत्र में आते हैं. मध्यप्रदेश में ये दो उपचुनाव सत्ता के सेमीफाइनल के तौर पर देखे जा रहे हैं. फाइनल नवंबर में होगा. कांग्रेस के सामने अपने गढ़ को बचाए रखने की चुनौती है वहीं बीजेपी अटेर-चित्रकूट में हार का बदला सिंधिया के गढ़ में सेंध लगाकर लेना चाहती है. नतीजा 28 को पता लग जाएगा कि कौन कामयाब हुआ.

वहीं शुक्रवार को कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में 24 फरवरी को मुंगावली और कोलारस विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव की मतदाता सूचियों में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी होने की शिकायत करते हुए निर्वाचन आयोग पर सरकार के दबाव में काम करने का आरोप लगाया था. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव ने कहा था कि मुंगावली विधानसभा क्षेत्र में लगभग 12 से 13 हजार मतदाता जबकि कोलारस में 8 से 9 हजार मतदाताओं की गड़बड़ी है। इनमें से कई मतदाताओं के तीन-तीन, और चार-चार मतदाता क्रमांक से अलग-अलग वोटर कार्ड बने हुए हैं तथा एक फोटो पर अलग-अलग नामों के वोटर कार्ड भी पाए गए. उन्होंने मीडिया को वोटर लिस्ट की गड़बड़ियां बताते हुए लिस्ट की प्रतियां भी वितरित कीं.

यादव ने कहा कि कांग्रेस ने मुंगावली विधानसभा के 144 अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों और कोलारस विधानसभा क्षेत्र के 60 अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्रों पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने की भी मांग की है.

टिप्पणियां
VIDEO: चुनाव में आमने-सामने बुआ-भतीजा


ये उपचुनाव को दोनों दल सेमीफाइनल के तौर पर देख रहे हैं, क्योंकि विधानसभा चुनाव इसी साल के अंत में होने वाला है. दोनों विधानसभा सीटें कांग्रेस के कब्जे में थीं और विधायकों के निधन के कारण उपचुनाव होने जा रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement