NDTV Khabar

जिन्ना पर अपने ही दो सांसदों के बयानों के कारण बीजेपी मुसीबत में फंसी

बहराइच की बीजेपी सांसद सावित्री फुले ने कहा है कि जिन्ना महापुरुष थे, भारत में उनका सम्मान होना चाहिए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जिन्ना पर अपने ही दो सांसदों के बयानों के कारण बीजेपी मुसीबत में फंसी

मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर चल रहे विवाद के बीच बीजेपी के दो सांसदों द्वारा दिए गए बयान पार्टी को परेशानी में डालने वाले हैं.

खास बातें

  1. शत्रुघ्न सिन्हा ने जिन्ना की तस्वीर हटाने की मांग पर सवाल उठाए
  2. कांग्रेस का आरोप- इस विवाद के पीछे कर्नाटक के चुनाव है वजह
  3. चुनाव खत्म होते ही ये लोग जिन्ना को भूल जाएंगे
नई दिल्ली: जिन्ना पर बीजेपी के दो सांसदों के अलग सुर उसके लिए परेशानी का कारण बन गए हैं. बीजेपी के दो सांसदों ने जिन्ना विवाद पर सवाल खड़ा करके पार्टी को कठघरे में खड़ा कर दिया है. बहराइच से बीजेपी सांसद ने जिन्ना को महापुरूष करार दिया और शत्रुघ्न सिन्हा ने जिन्ना की तस्वीर हटाने की बीजेपी के कुछ नेताओं की मांग पर सवाल खड़ा कर दिया है.

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय और जामिया में जिन्ना की तस्वीर को लेकर उठे विवाद में अब बीजेपी की विवादित सांसद सावित्री फुले का बयान भी शामिल हो गया है. सावित्री फुले का कहना है कि जिन्ना महापुरुष थे. भारत में उनका सम्मान होना चाहिए. कुछ दिनों से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ख़िलाफ़ लगातार बोल रहीं सावित्री फुले ने जिन्ना पर ये बयान देकर पार्टी को मुश्किल में डाल दिया है.

यह भी पढ़ें : एएमयू विवाद : शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, लोगों की तस्वीरें हटाने की क्या जरूरत?

कांग्रेस का आरोप है कि इस विवाद के पीछे वजह कर्नाटक के चुनाव हैं. कांग्रेस के नेता और प्रवक्ता आरपीएन सिंह ने एनडीटीवी से कहा, "बीजेपी इस मामले में अपने नेताओं के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं करती है? इससे पहले यूपी के एक वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री जिन्ना की जमकर तारीफ कर चुके हैं...कर्नाटक के चुनाव हैं, इसलिए ऐसे राजनीतिक जुमले आते रहेंगे. चुनाव खत्म होते ही ये लोग जिन्ना को भूल जाएंगे."

यह भी पढ़ें : BJP सांसद ने कहा, आज़ादी की लड़ाई में जिन्‍ना का अहम योगदान, ऐसे महापुरुष की तस्वीर जहां ज़रूरत हो लगनी चाहिए

इससे पहले बीजेपी के सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने पणजी में 'सिटिज़न्स फॉर डेमोक्रेसी' के कार्यक्रम मे एमयू से जिन्ना की तस्वीर हटाने की मांग पर कहा "अचानक यूनिवर्सिटी का नाम बदलने और कुछ लोगों की तस्वीरें हटाने की मांग होने लगी. उन्हें क्यों हटाया जाए? इतने साल में वे वहीं थे और सबकुछ ठीक चल रहा था". शत्रुघ्न सिन्हा ने नसीहत दी कि बीजेपी को उन घटनाओं के बारे में सोचना चाहिए जिनमें गौ-रक्षा के नाम पर देश के कुछ हिस्सों में बेगुनाह लोगों की हत्या कर दी गई है.

टिप्पणियां
VIDEO : विश्वविद्यालयों में जिन्ना की तस्वीर पर विवाद

बीजेपी के ही नेताओं ने जिन्ना की तस्वीर पर विवाद शुरू किया, अब पार्टी को उसके ही सांसदों की नसीहत सुननी पड़ रही है. साफ है, पार्टी के अंदर से ही दो तरह की राय आने के बाद अब बीजेपी को इस मामले में स्पष्टीकरण देना पड़ सकता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement