पश्चिम बंगाल: अमित शाह और जेपी नड्डा ने बनाया TMC को हराने का प्लान, हर महीने करेंगे 5 दिनी दौरा

West Bengal Election 2021: भाजपा के वरिष्ठ नेताओं- सुनील देवधर, विनोद तावड़े, दुष्यंत गौतम, हरीश द्विवेदी एवं विनोद सोनकर- को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने उत्तर बंगाल, रढ़ बंगा(दक्षिण पश्चिम जिलों), नबाद्वीप, मिदनापुर, एवं कोलकाता संगठनात्मक क्षेत्र का प्रभारी नियुक्त किया है. 

पश्चिम बंगाल: अमित शाह और जेपी नड्डा ने बनाया TMC को हराने का प्लान, हर महीने करेंगे 5 दिनी दौरा

West Bengal Assembly Polls 2021: अमित शाह बंगाल विधानसभा चुनाव समाप्त होने तक प्रत्येक महीने राज्य का दौरा करेंगे.

कोलकाता:

भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल (West Bengal)  इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने बुधवार को कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एवं पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा प्रदेश में विधानसभा चुनाव समाप्त होने तक प्रत्येक महीने राज्य का दौरा करेंगे. पश्चिम बंगाल की 294 सदस्यीय विधानसभा के लिये अगले साल अप्रैल-मई में चुनाव होने हैं. भाजपा के दोनों नेता चुनाव से पहले हर महीने पार्टी संगठन का जायजा लेने के लिये अलग अलग राज्य का दौरा करेंगे. घोष ने संवाददाताओं से कहा, "अमित शाह एवं जे पी नड्डा विधानसभा चुनाव समाप्त होने तक हर महीने अलग अलग राज्य के दौरे पर आयेंगे. तारीखों को अंतिम रूप दिया जाना बाकी है. उनके नियमित दौरों से पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्द्धन होगा."

पार्टी सूत्रों ने बताया कि शाह के हर महीने लगातार दो दिन दौरा करने की संभावना है जबकि नड्डा की यात्रा तीन दिवसीय होगी. कांग्रेस—माकपा गठबंधन पर बरसते हुये घोष ने कहा कि दोनों दलों को लोगों ने बहुत पहले खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा, "पश्चिम बंगाल के लोगों ने कांग्रेस, माकपा एवं तृणमूल कांग्रेस को मौका दिया. लोगों की आकांक्षाओं पर खरा उतरने में तीनों दल नाकाम रहे हैं, इन उम्मीदों को अब भाजपा पूरा करेगी."

क्या जुमला साबित होगा बिहार में 19 लाख रोजगार का वादा? नीतीश ने BJP के कंधे पर बोझ डाला

पार्टी सूत्रों ने बताया कि राज्य विधानसभा चुनाव को देखते हुये भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश को पांच संगठनात्मक क्षेत्रों में वि​भाजित किया है और केंद्रीय नेताओं को उनका प्रभारी नियुक्त किया है. भाजपा के वरिष्ठ नेताओं — सुनील देवधर, विनोद तावड़े, दुष्यंत गौतम, हरीश द्विवेदी एवं विनोद सोनकर — को पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने उत्तर बंगाल, रढ़ बंगा(दक्षिण पश्चिम जिलों), नबाद्वीप, मिदनापुर, एवं कोलकाता संगठनात्मक क्षेत्र का प्रभारी नियुक्त किया है. 

राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर को लेकर तृणमूल कांग्रेस में उठने लगे सवाल


देवधर, तावड़े एवं सोनकर के संभवत: आज अपने संबंधित क्षेत्र में बैठक करने का कार्यक्रम है. पश्चिम बंगाल में सीमित उपस्थिति के बावजूद पिछले साल हुये लोक सभा चुनाव में 42 में से 18 सीट जीत कर भाजपा, सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के मुख्य प्रतिद्वंद्वी के रूप में उभरी थी.

वीडियो- मुकाबला: बिहार चुनाव का असर बंगाल में दिखेगा?

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)