CAA के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को BJP विधायक की धमकी- आप सिर्फ 15 प्रतिशत और हम 80

कर्नाटक के बीजेपी नेता ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों के चेतावनी दी है कि बहुसंख्यक समुदाय के सदस्य अगर उनके खिलाफ सड़कों पर उतरें तो क्या होगा.

CAA के खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को BJP विधायक की धमकी- आप सिर्फ 15 प्रतिशत और हम 80

कर्नाटक के बीजेपी नेता सोमाशेखर रेड्डी

खास बातें

  • कर्नाटक के बीजेपी विधायक ने दी चेतावनी
  • रैली के दौरान कहा- आप सिर्फ 15 प्रतिशत और हम...
  • कर्नाटक के बल्लारी क्षेत्र में रैली के दौरान कही ये बात
बेंगलुरु:

कर्नाटक के बीजेपी नेता ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों के चेतावनी दी है कि बहुसंख्यक समुदाय के सदस्य अगर उनके खिलाफ सड़कों पर उतरें तो क्या होगा. शुक्रवार को उत्तरी कर्नाटक के बल्लारी क्षेत्र में बीजेपी के विधायक सोमाशेखर रेड्डी ने रैली में जनसभा को संबोधन के दौरान अप्रत्यक्ष रूप से मुस्लिम समुदाय की ओर इशारा किया और कहा, ''सावधान रहिएगा क्योंकि हमारी 80 प्रतिशत आबादी हैं, जबकि आप सिर्फ 15 प्रतिशत. आप सिर्फ अल्पसंख्यक हैं, और मैं चाहता हूं कि आप सोचें कि अगर आप सभी के खिलाफ बहुमत सड़कों पर आ जाए तो क्या होगा.''

मुजफ्फरनगर में मौलाना असद के परिवार से मिलीं Priyanka Gandhi, कहा- अभी भी पुलिस हिरासत में हैं बेकसूर

बीजेपी नेता रेड्डी ने यह भी दावा किया है कि दक्षिण बेंगलुरु के सांसद तेजस्वी सूर्या सही थे, जो इस कानून के खिलाफ विरोध कर रहे हैं वह पंचरवाले हैं. उन्होंने कहा, ''तेजस्वी सूर्या ने सही कहा था. ज्यादातर प्रदर्शनकारी पंचरवाले और अनपढ़ हैं, जो उनसे कहा जाता है वह उन्हीं बातों पर विश्वास कर लेते हैं.'' रेड्डी ने यह भी दावा किया कि विपक्ष कांग्रेस पार्टी उनका दिमाग प्रदूषित कर रही है.

बल्लारी विधायक ने कहा कि कर्नाटक में वह प्रदर्शनकारी जो पब्लिक प्रॉपर्टी को नुकसान पहुंचा रहे हैं, उन्हें वैसा ही पाठ पढ़ाया जाएगा जैसा उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में प्रदर्शनकारियों के साथ किया गया था. न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए उन्होंने कहा, ''हम भारतीय हैं, और हम आपको वही सिखाएंगे जो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अपने राज्य में सार्वजनिक संपत्ति को नष्ट करने वालों को सिखा रहे हैं. सीएए का विरोध करने वालों को गोली मार दी जाए तो अच्छा है, लेकिन अगर आप घायल हुए हैं तो एक हिंदू डॉक्टर के पास आएं. वह आपके घाव का इलाज करेंगे.''

संसद में लस्त-पस्त पड़ी कांग्रेस को इस साल मिलेगी खुशखबरी, BJP की आस 2020 में भी नहीं होगी पूरी

बता दें कि कर्नाटक के कुछ हिस्सों में पिछले महीने नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा देखी गई थी, पुलिस की फायरिंग में 19 दिसंबर को मंगलुरु में दो लोगों को गोली लगी थी. (इनपुट एएनआई से भी)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com