नोटिस के बावजूद नरम नहीं पड़े बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह के तेवर

धीरेंद्र को पिछले रविवार को लखनऊ में गिरफ्तार किया गया था. बैरिया क्षेत्र से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह शुरू से ही आरोपी के पक्ष में खुलकर आ गए थे.

नोटिस के बावजूद नरम नहीं पड़े  बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह के तेवर

बलिया:

रेवती इलाके में पिछले हफ्ते हुए गोलीकांड में आरोपी पक्ष के साथ खड़े भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह के तेवर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के नोटिस जारी करने के बाद भी नरम नहीं पड़ रहे हैं. सिंह ने पिछले बृहस्पतिवार को रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर ग्राम में भाजपा नेता धीरेंद्र प्रताप सिंह द्वारा कथित रूप से चलाई गई गोली का शिकार बने जय प्रकाश पाल गामा को अपराधी करार देते हुए कहा है कि एक सैनिक के हाथों अपराधी की मौत हुई है.

अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले भाजपा के बैरिया क्षेत्र के विधायक सिंह आज मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के समर्थन में ना सिर्फ खुलकर सामने आ गए है, बल्कि उन्होंने ‘‘एक सैनिक के हाथों अपराधी की मौत'' होने का बयान देकर हत्या को ही सही ठहरा दिया.

यह भी पढ़ें- बलिया मर्डर को लेकर BJP अध्यक्ष की पार्टी MLA को चेतावनी - जांच में न दें दखल

उन्होंने बृहस्पतिवार को अपने आवास पर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा, ‘‘जय प्रकाश पाल गामा अपराधी था. उसके विरुद्ध ट्रेन डकैती समेत विभिन्न अपराधों के चार मामले दर्ज थे. गामा ने अपने गांव के त्रिलोकी नाथ तिवारी की भूमि पर जबर्दस्ती कब्जा कर लिया था तथा प्रतिरोध करने पर त्रिलोकी नाथ तिवारी पर जान लेने की नीयत से हमला किया था.''

भाजपा विधायक ने इसके साथ ही कहा कि एक सैनिक के हाथों अपराधी की मौत हुई है. उन्होंने दावा किया कि पार्टी उनके साथ है. यह पूछे जाने पर कि जब पार्टी नेतृत्व कदम को सही ठहरा रहा है तो फिर नोटिस जारी क्यों किया, सिंह ने कहा कि यह परम्परा है. उन्होंने कहा कि धीरेंद्र प्रताप सिंह से गलती हुई है, लेकिन वह अपराधी नहीं है.

भाजपा विधायक ने सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर पोस्ट कर अपने कदम का सार्वजनिक रूप से इजहार कर दिया है. उन्होंने लिखा है, ‘‘विपत्ति काल मे अपने सहयोगी, संबंधी, भाई और कार्यकर्ताओं को छोड़ना महापाप होता है. इसलिए हमने अपने धर्म का निर्वहन किया है और करता रहूंगा, चाहे इसके लिए मुझे किसी भी कठिनाई का सामना करना पड़े, वह मुझे सहर्ष स्वीकार होगा.''

भाजपा विधायक सिंह के पुत्र विद्या भूषण सिंह हजारी ने भी अपने पिता के सुर में सुर मिलाते हुए फेसबुक पर पोस्ट किया है, ‘‘जिन नेताओं को पद से प्यार है डरते रहे, हमें अपने कार्यकर्त्ताओं का सम्मान एवं प्रतिष्ठा ही प्यारी है. सत्य पराजित नहीं हो सकता.''

गौरतलब है कि पिछले बृहस्पतिवार को जिले के रेवती इलाके में सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के आवंटन के दौरान विवाद के बाद भाजपा नेता धीरेंद्र प्रताप सिंह ने गोली चलाई थी जिसकी चपेट में आने से जयप्रकाश पाल नामक व्यक्ति की मौत हो गई थी. धीरेंद्र को पिछले रविवार को लखनऊ में गिरफ्तार किया गया था. बैरिया क्षेत्र से भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह शुरू से ही आरोपी के पक्ष में खुलकर आ गए थे.

Newsbeep

सिटी सेंटर: बलिया केस में आरोपी के समर्थन में खुलकर आए बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)