NDTV Khabar

बीजेपी सांसद का बयान हो रहा वायरल, कहा- संस्कृत बोलेंगे तो डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल से रहेंगे दूर

मध्य प्रदेश के सतना से बीजेपी सांसद गणेश सिंह (Ganesh Singh) ने बयान दिया है कि संस्कृत बोलने से इंसान डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल से दूर रहता है. सिंह ने अमेरिकी संस्थान की एक रिसर्च के हवाले से यह बयान दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी सांसद का बयान हो रहा वायरल, कहा- संस्कृत बोलेंगे तो डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल से रहेंगे दूर

गणेश सिंह मध्य प्रदेश के सतना से सांसद हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सतना से बीजेपी सांसद हैं गणेश सिंह
  2. संस्कृत बोलने के गिनाए फायदे
  3. 97 फीसदी भाषाओं का मूल है संस्कृत
नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद गणेश सिंह (Ganesh Singh) ने एक ऐसा बयान दिया है, जिससे वह सोशल मीडिया पर सुर्खियों आ गए हैं. मध्य प्रदेश के सतना से सांसद सिंह का दावा है कि संस्कृत बोलने से इंसान डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल से दूर रहता है. गणेश सिंह ने संस्कृत यूनिवर्सिटीज़ पर लाए जाने वाले बिल पर बोलते हुए अमेरिकी संस्थान की एक रिसर्च के हवाले से यह बयान दिया है. वह यहीं नहीं रुके, उन्होंने अमेरिकी स्पेस एजेंसी 'नासा' के हवाले से कहा कि अगर कंप्यूटर प्रोगामिंग संस्कृत में हो तो यह बेहद शानदार काम करेगा. बीजेपी सांसद ने कहा कि दुनियाभर की 97 फीसदी भाषाएं जिसमें इस्लामिक भाषाएं भी शामिल हैं, का मूल संस्कृत ही है.

नागरिकता विधेयक पर बवाल के बीच हटाए गए गुवाहाटी के पुलिस प्रमुख, अन्य अधिकारियों का भी तबादला


बीजेपी सांसद का बयान सोशल मीडिया पर वायरल होते ही उन्हें जमकर ट्रोल किया जा रहा है. ट्रोलर्स उन्हें सोच-समझकर बोलने की नसीहत दे रहे हैं. बताते चलें कि केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी भी सदन में विधेयकों पर चर्चा करते हुए अक्सर संस्कृत में ही बोलते हैं. वह कहते हैं कि यह भाषा काफी सरल है और इसका एक वाक्य कई तरह से बोला जा सकता है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अंग्रेजी के कई शब्द संस्कृत भाषा से ही लिए हैं. 'ब्रदर' और 'काऊ' संस्कृत से ही लिए गए हैं. वह कहते हैं कि प्राचीन भाषाओं के प्रचार-प्रसार से दूसरी भाषाएं जरा भी प्रभावित नहीं होंगी.

बीजेपी सांसद के घर में उनके पीएसओ ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी की

बताते चलें कि इससे पहले बीजेपी के कई नेता ऐसे बयान दे चुके हैं. पश्चिम बंगाल बीजेपी के प्रमुख दिलीप घोष ने सबको चौंकाते हुए जानकारी दी थी कि भारतीय गायों के दूध में सोना होता है. वहीं त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब भी इस लिस्ट में पीछे नहीं हैं. देब ने मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद कहा था कि महाभारत काल में भी इंटरनेट और सैटेलाइट का इस्तेमाल किया जाता था. उन्होंने कहा, 'ये सब देश में पहली बार नहीं हो रहा है. हमारा देश वह देश है, जिसमें महाभारत के दौरान संजय ने हस्तिनापुर में बैठकर धृतराष्ट्र को बताया था कि कुरुक्षेत्र के युद्ध में क्या हो रहा है. संजय इतनी दूर रहकर आंख से कैसे देख सकते हैं. इसका मतलब है कि उस समय भी तकनीक, इंटरनेट और सैटेलाइट था.'

टिप्पणियां

VIDEO: बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी ने एनकाउंटर को कानून में लाने की मांग की



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. India News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bigg Boss 13: आसिम रियाज के फैन्स के लिए खुशखबरी, बॉलीवुड में मिला ब्रेक!

Advertisement