बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा में कहा, 'जीडीपी रामायण, महाभारत या बाइबल की तरह सत्य नहीं'

लोकसभा में निशिकांत दुबे ने कहा "जीडीपी 1934 में आई, इससे पहले कोई जीडीपी नहीं थी, सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण या महाभारत मान लेना सत्य नहीं है और भविष्य में जीडीपी का बहुत ज्यादा उपयोग नहीं होगा.

बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा में कहा, 'जीडीपी रामायण, महाभारत या बाइबल की तरह सत्य नहीं'

नई दिल्ली:

लगातार घटती आर्थिक विकास दर और GDP का मुद्दा सोमवार को लोकसभा में उठा लेकिन गोड्डा से बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे के सदन में GDP को लेकर दिये गए बयान पर हंगामा हो गया. लोकसभा में निशिकांत दुबे ने कहा "जीडीपी 1934 में आई, इससे पहले कोई जीडीपी नहीं थी, सिर्फ जीडीपी को बाइबल, रामायण या महाभारत मान लेना सत्य नहीं है और भविष्य में जीडीपी का बहुत ज्यादा उपयोग नहीं होगा. जीडीपी से अधिक जरूरी है आम आदमी का स्थायी आर्थिक कल्याण होना जो हो रहा है."

निशिकांत दुबे के बयान पर सदन में जमकर हंगामा हुआ, निशिकांत दुबे पहले भी चर्चाओं में रह चुके हैं. इससे पहले सांसद निशिकांत दुबे कार्यकर्ता से पांव धुलवाने के मामले में विवादों में घिर गए थे. अपने संसदीय क्षेत्र में कनभारा पुल के शिलान्यास समारोह के दौरान कार्यकर्ता से पांव धुलवाने के मामले में भी विवादों में रहे थे. बाद में वीडियो सोशल मीडिया में काफी वायरल हो गया था. खुद सांसद ने भी अपनी पैर धुलवाते हुए तस्वीर फेसबुक पर लगाई थी. कार्यकर्ता से पैर धुलवाने को लेकर जब विवाद बढ़ने लगा था तो सांसद ने इस मामले में राजनीति नहीं करने की हिदायत दी थी. 

VIDEO: BJP MP निशिकांत दुबे का पैर धोकर कार्यकर्ता ने पीया पानी, विवाद पर दी सफाई

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com