NDTV Khabar

प्रधानमंत्री को समन वाले बयान पर थॉमस के खिलाफ भाजपा ने की कार्रवाई की मांग

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रधानमंत्री को समन वाले बयान पर थॉमस के खिलाफ भाजपा ने की कार्रवाई की मांग

पीएसी के अध्यक्ष केवी थॉमस नोटबंदी पर सरकार को नोटिस भेजने को लेकर काफी चर्चित हुए हैं

खास बातें

  1. पीएसी ने रिजर्व बैंक के गवर्नर को समिति के समक्ष पेश होने का कहा है
  2. पीएसी अध्यक्ष ने कहा की समिति के पास किसी को भी समन भेजने का अधिकार
  3. थॉमस के खिलाफ भाजपा ने लोकसभा अध्यक्ष से कार्रवाई की मांग की है
नई दिल्ली: नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समन करने को लेकर लोक लेखा समिति (पीएसी) के अध्यक्ष और कांग्रेस नेता केवी थॉमस के बयान के खिलाफ भाजपा ने लोकसभा अध्यक्ष से शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है.  इस गतिरोध का असर कमेटी के कामकाज पर पड़ना तय है.
 
बता दें कि नोटबंदी को लेकर पीएसी ने पहले तो रिजर्व बैंक के प्रमुख उर्जित पटेल को नोटिस जारी कर 10 सवालों के जवाब मांगे थे और उन्हें समिति के समक्ष पेश होने के निर्देश दिए थे. यह समिति नोटबंदी की समीक्षा कर रही है.

केरल में संवाददाता सम्मेलन में केवी थॉमस ने कहा, "हमारे पास किसी को भी समन करने का अधिकार है, मंत्रियों और प्रधानमंत्री तक को."

टिप्पणियां
थॉमस के इस बयान से सत्ता पक्ष में हलचल मच गई. समिति के सदस्य और सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा स्पीकर से लिखित मांग की है कि वो थॉमस को अपना बयान वापस लेने के लिए निर्देश दें.

शशिकांत ने लोकसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में कहा है कि थॉमस का बयान गलत और अनैतिक है और यह बयान संसदीय प्रक्रिया और लोकसभा अध्यक्ष के निर्देशों के खिलाफ है. उन्होंने मांग की है कि स्पीकर इस मामले में फौरन दखल देते हुए थॉमस को बयान वापस लेने के निर्देश दें.
 
पब्लिक अकाउंट्स कमेटी में एनडीए के सांसद अब 13 जनवरी को होने वाली पीएसी की अगली बैठक में इस मसले पर सवाल-जवाब करने की तैयारी कर रहे हैं. उन्होंने तय किया है कि अगर थॉमस अपना बयान वापस नहीं लेते हैं तो वे स्पीकर से मिलकर उनसे औपचारिक कार्रवाई की मांग करेंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement