बीजेपी सांसद ने लोकसभा में झारखंड सरकार पर लगाया नक्सलवाद को बढ़ावा देने का आरोप, राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

लोकसभा में बुधवार को निशिकांत दुबे ने झारखंड सरकार पर राज्य में नक्सलवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया.

बीजेपी सांसद ने लोकसभा में झारखंड सरकार पर लगाया नक्सलवाद को बढ़ावा देने का आरोप, राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

निशिकांत दुबे ने झारखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की.

खास बातें

  • निशिकांत दुबे ने झारखंड सरकार को बर्खास्त करने की मांग की
  • दुबे ने सरकार पर नक्सलवाद का बढ़ावा देने का आरोप लगाया
  • हाल ही में झारखंड में सरकार का गठन हुआ है
नई दिल्ली:

लोकसभा (Loksabha) में बुधवार को भाजपा (BJP) के एक सदस्य ने झारखंड में हाल ही में निर्वाचित झामुमो-कांग्रेस (JMM-Congress Govt.) नीत सरकार पर राज्य में नक्सलवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए राज्य सरकार (Jharkhand Govt.) को बर्खास्त कर वहां राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की. झारखंड के गोड्डा से भाजपा सदस्य निशिकांत दुबे (Nishikant Dubey) ने शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कहा कि राज्य में झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) और कांग्रेस (Congress) के गठबंधन वाली सरकार के आने के बाद पश्चिम सिंहभूम के एक गांव में सात आदिवासियों की नृशंस हत्या कर दी गयी लेकिन मौजूदा राज्य सरकार ने और कांग्रेस पार्टी ने इस पर एक शब्द भी नहीं बोला.

BJP सांसद ने लोकसभा में उठाई मांग, कहा- JNU को कुछ दिन के लिए बंद किया जाए


उन्होंने कहा कि राज्य में विकास विरोधी ताकतों और अफीम उत्पादकों ने 2016 में पत्थलगढ़ी आंदोलन शुरू किया था जिसके खिलाफ तत्कालीन राज्य सरकार ने उन पर मामला दर्ज किया था. दुबे ने कहा कि राज्य में झामुमो और कांग्रेस की सरकार आने के बाद उस मामले को खत्म कर दिया गया और राज्य में नक्सलवाद तथा आतंकवाद को बढ़ावा दिया जा रहा है जिसके परिणामस्वरूप ये ‘नृशंस हत्याएं' की गयीं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि आदिवासियों के सम्मान में झारखंड के सदस्यों ने आज संसद भवन परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना दिया. भाजपा सांसद ने केंद्र सरकार से मांग की कि नक्सलवाद को बढ़ावा देने वाली झामुमो-कांग्रेस नीत झारखंड सरकार को बर्खास्त किया जाए, न्यायिक जांच की जाए और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)