NDTV Khabar

यूपी में 403 में 325 सीटें जीतना बताता है जनता बीजेपी के साथ: राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में बोले अमित शाह

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यूपी में 403 में 325 सीटें जीतना बताता है जनता बीजेपी के साथ: राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में बोले अमित शाह

अमित शाह ने कहा कि 'देश की आजादी के बाद से नरेंद्र मोदी देश के सबसे लोकप्रिय नेता हैं'. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. इन चुनावों में क्षेत्रीय दलों को न हरा पाने का मिथक टूटा है- अमित शाह
  2. शाह ने उठाया सवाल, साल 2004-09 में जब यूपीए जीती तो क्‍या ईवीएम ठीक थी?
  3. 95 दिन तक देशभर का दौरा करेंगे अमित शाह.
भुवनेश्‍वर: भुवनेश्‍वर में आयोजित भाजपा की दो-दिवसीय राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में शनिवार को पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी मध्‍य प्रदेश, गुजरात और कर्नाटक के आगामी विधानसभा चुनावों में भी निर्णायक विजय हासिल करेगी.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पार्टी अध्‍यक्ष के भाषण में कही गईं बातों से मीडिया को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के जरिये अवगत कराया. उन्‍होंने बताया कि पार्टी अध्‍यक्ष ने अपने संबोधन में कहा कि इन चुनावों में क्षेत्रीय दलों को न हरा पाने का मिथक टूटा है. यूपी में कांग्रेस के साथ दोनों क्षेत्रीय दलों की हार हुई. यूपी में 403 में 325 सीट का जीतना इस बात का प्रमाणिक उदाहरण है कि यूपी की जनता निर्णायक रूप से भाजपा के साथ आई है. यह नतीजे जातिवाद, तुष्टिकरण और परिवारवाद की राजनीति की अस्‍वीकृति है.

उन्‍होंने यह भी कहा कि 'देश की आजादी के बाद से नरेंद्र मोदी देश के सबसे लोकप्रिय नेता हैं. लोग उनमें विश्‍वास करते हैं'. उन्‍होंने कहा कि, 'हम यह अपेक्षा करते थे कि हारे हुए दल ईमानदारी से अपनी हार को स्‍वीकार करेंगे, लेकिन अब वो हारने का बहाना ढूंढ रहे हैं और उस बहाने में ईवीएम की चर्चा हुई है'. उन्‍होंने यह सवाल किया कि 'साल 2004-09 में जब यूपीए जीती तो क्‍या ईवीएम ठीक थी? यूपी में सपा और बसपा जीती और दिल्‍ली में भाजपा हारी तो क्‍या ईवीएम ठीक थी? इस तरह की बातें करना हार को ईमानदारी से स्‍वीकार करने की बजाय चुनाव आयेाग के खुले निरादर के समान है'.

रविशंकर प्रसाद ने बताया कि पार्टी अध्‍यक्ष ने राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आह्वान करते हुए कहा कि आज भाजपा दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है, लेकिन अब भी देश में बहुत सारे क्षेत्र हैं, जहां भाजपा को आगे बढ़ना है. इसलिए आलस्‍य नहीं करना है और वर्किंग कमेटी के सारे लोग 15 दिन का समय संगठन को देंगे... बूथों पर जाएंगे और रहेंगे. खुद राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष भी बूथों पर जाएंगे.

इसके साथ ही अमित शाह ने यह भी घोषणा की कि वो आगामी सितंबर तक 95 दिन तक देशभर में दौरा करेंगे और कार्यकर्ताओं से मिलकर, उनसे बात कर संगठन को मजबूत बनाने की दिशा में काम करेंगे.

उन्‍होंने केरल, त्रिपुरा और बंगाल में भाजपा और संघ कार्यकर्ताओं के साथ हो रही हिंसा की निंदा की और कहा कि केरल में वामपंथी सरकार बनने के बाद वहां भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमले के मद्देनजर तय किया है कि अगर हिंसा होगी तो हम शांतिपूर्ण प्रतिकार करेंगे और वहां भाजपा का कमल खिलेगा.

टिप्पणियां
अमित शाह ने यह भी कहा कि मोदी सरकार के तीन वर्ष पूरे होने वाले हैं. इस दौरान सरकार ने जो काम किया अन्‍य सरकारों को ये काम पूरा करने में दो-तीन कार्यकाल लगते. देश में पूंजी निवेश, किसान विकास, कौशल विकास, तकनीकी विकास, गरीबों के उत्‍थान के अलावा अन्‍य कई विकास कार्यकम हुए हैं. हम न्‍यू इंडिया की कल्‍पना के साथ आगे बढ़ेंगे. इसके साथ ही उन्‍होंने उड़ीसा के विकास की स्थिति को चिंताजनक बताया.

उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि यह कहा गया कि साल 2014 की जीत के बाद भाजपा अपने चरमोत्‍कर्ष पर पहुंच गई, लेकिन भाजपा का चरमोत्‍कर्ष आना अभी बाकी है. आज हमारे 13 मुख्‍यमंत्री हैं, लेकिन हमारी कल्‍पना है कि देश के हर राज्‍य में हमारे मुख्‍यमंत्री हों. 2019 में हमें दोबारा नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनाना है. पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक हर स्‍तर पर भाजपा का शासन होना चाहिए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement