CAA के समर्थन में BJP ने कोलकाता में की रैली, जेपी नड्डा ने रैली को किया संबोधित

CAA पर मचे घमासान के बीच BJP ने इस मुद्दे पर अभियान चलाने का फैसला किया है.  CAA के समर्थन में BJP के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को कोलकाता में रैली को संबोधित किया.

CAA के समर्थन में BJP ने कोलकाता में की रैली, जेपी नड्डा ने रैली को किया संबोधित

बीजेपी ने CAA के समर्थन में कोलकाता में की रैली

कोलकाता:

CAA पर मचे घमासान के बीच BJP  इस मुद्दे पर अभियान चला रही है  CAA के समर्थन में BJP के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को कोलकाता में रैली को संबोधित किया. रैली की शुरुआत सुबोध मलिक स्कवॉयर से हुई और श्यामबाजार पर खत्म हुई. रैली में पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के आलावा कैलाश विजयवर्गीय ने हिस्सा लिया. बता दें कि अगलेे कुछ दिनों मेें  BJP देश भर में 1000 रैली करने जा रही है. पार्टी ने रैली में स्‍थानीय नेताओं के साथ साथ राष्‍ट्रीय नेताओं को भी शामिल होने का निर्देश दिया है.

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में राज्य के मंत्री और जमीयत-ए-हिंद के प्रदेश अध्यक्ष सिद्दिकउल्ला चौधरी ने धमकी दी थी कि अगर सीएए को फौरन वापस नहीं लिया गया तो जब भी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह यहां के दौरे पर आयेंगे तब उन्हें हवाई अड्डे से बाहर कदम नहीं रखने दिया जाएगा. सीएए के विरोध में जमीयत-ए-हिंद की रैली में उन्होंने कहा, ‘‘अगर जरूरत पड़ी तो हम लोग उन्हें (शाह को) शहर के हवाई अड्डे के बाहर कदम नहीं रखने देंगे. उन्हें रोकने के लिए हम लोग एक लाख लोग को वहां जमा कर सकते हैं.''

पश्चिम बंगाल: शाह को कोलकाता एयरपोर्ट पर रोके जाने की बात पर बीजेपी का पलटवार, कहा- कैसे कोई मंत्री...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

CAA  के मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस अब आमने-सामने आ गयी है जहां एक तरफ बीजेपी देश भर में समर्थन में रैली कर रही है वहीं इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक ट्वीट कर युवाओं से सोमवार दोपहर तीन बजे राजघाट पहुंचने की अपील की है. राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, 'प्रिय छात्रों और युवाओं इस नफरत के दौर में हमें ये दिखाना होगा कि आप इस देश को नष्ट नहीं होने देंगे. मोदी और शाह द्वारा भारत में छेड़ी गई नफरत और हिंसा के विरोध में दोपहर तीन बजे राजघाट पर मेरे साथ जुड़ें.'

VIDEO: दिल्‍ली में नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ विरोध जारी