पुलवामा हमले पर राहुल गांधी ने पूछे मोदी सरकार से सवाल तो BJP ने कहा- गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता

पुलवामा हमले की बरसी पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर पूछा था कि अभी तक हमले की जांच का क्या हुआ? आखिर इससे किसे फायदा हुआ?

पुलवामा हमले पर राहुल गांधी ने पूछे मोदी सरकार से सवाल तो BJP ने कहा- गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता

कांग्रेस नेता राहुल गांधी. (फाइल फोटो)

नयी दिल्ली:

भाजपा ने पुलवामा आतंकी हमले की बरसी पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए शुक्रवार को कहा कि पुलवामा नृशंस हमला था और गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने अपने ट्वीट में राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा ‘पुलवामा में हुआ हमला नृशंस आतंकी हमला था और यह (राहुल का) एक नृशंस बयान है कि किसको फायदा हुआ.' 

पुलवामा हमले की बरसी पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर पूछा था कि अभी तक हमले की जांच का क्या हुआ? आखिर इससे किसे फायदा हुआ? पात्रा ने कहा, ‘मिस्टर गांधी, क्या आप फायदे के आगे भी सोच सकते हैं? जाहिर तौर पर नहीं.'

राहुल गांधी ने पूछा- पुलवामा हमले की जांच में क्या निकला, इसका सबसे ज्यादा फायदा किसे हुआ?

भाजपा प्रवक्ता ने कहा ‘यह तथाकथित गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता । वे सिर्फ भौतिक रूप से ही भ्रष्ट नहीं हैं...उनकी आत्माएं भी भ्रष्ट हैं.'

गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बड़ा आतंकी हमला हुआ था जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे. यह हमला जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर सीआरपीएफ के काफिले को निशाना बनाकर किया गया था.

पुलवामा हमले का एक साल : गहरे जख्म की यादें, घटना जिससे शुरू हुआ बड़ा बदलाव

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले वर्ष जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए जघन्य आतंकी हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शुक्रवार को कहा कि देश इन शहीदों की शहादत को कभी नहीं भूलेगा. प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, ‘पिछले वर्ष पुलवामा में सुरक्षा बलों पर हुए जघन्य आतंकी हमले में जान गंवाने वाले वीर शहीदों को श्रद्धांजलि . वे असाधारण लोग थे जिन्होंने हमारे देश की सुरक्षा और सेवा करने में अपना जीवन समर्पित कर दिया.' उन्होंने कहा, ‘भारत उनकी शहादत को कभी नहीं भूलेगा.'

वीडियो: पुलवामा आतंकी हमले की 14 फरवरी को बरसी, CRPF के 40 जवान हुए थे शहीद



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)