NDTV Khabar

डीयू में जल्द खत्म हो सकता है चार साल का अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय में पिछले साल से शुरू किए गए चार साल के अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम को खत्म किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक, मानव संसाधन मंत्रालय ने पिछले साल शुरू किए गए इस प्रोग्राम को खत्म करने का मन बना लिया है और एक बार फिर पहले की तरह तीन साल के अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम की वापसी हो सकती है।

दरअसल, डीयू के वाइस चांसलर दिनेश सिंह और शिक्षा सचिव के बीच इस मुद्दे पर मुलाकात हुई थी, जिसमें दिनेश सिंह ने चार साल के प्रोग्राम के पक्ष में तर्क रखे, लेकिन खबर है कि वह मानव संसाधन मंत्रालय के अधिकारियों को संतुष्ट नहीं कर पाए। आरएसएस और बीजेपी समर्थित डेमोक्रेटिक टीचर फ्रंट भी चार साल के पाठयक्रम के विरोध में हैं और स्मृति ईरानी की अगुवाई वाले मंत्रिमंडल पर चार साल के अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम को खत्म करने का दबाव है।

बीजेपी की तरफ से भी चुनाव के दौरान इस नए पाठयक्रम को खत्म करने का वादा किया गया था हालांकि मंत्रालय कोई भी फैसला जल्दीबाजी में लेने के पक्ष में नहीं हैं।

खास बात यह है कि इस मुद्दे पर शिक्षकों के लेफ्ट और राइट विंग, के बीच भी एक राय है और दोनों ही ग्रुप चार साल के अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम के विरोध में लगातार आंदोलन कर रहे हैं हालांकि अगर तीन साल के पाठयक्रम की वापसी होती है तो उन छात्रों के लिए मुश्किल खड़ी हो जाएगी जिन्होंने पिछले साल चार साल के अंडर ग्रेजुएट प्रोग्राम में दाखिला लिया है, क्योंकि इन छात्रों के पहले साल में सिर्फ फाउंडेशन कोर्स ही कराया गया है हालांकि मंत्रालय इस समस्या से निपटने पर गंभीरता से विचार कर रहा है।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement