NDTV Khabar

नोट बंद करने पर केंद्र की आलोचना को लेकर भाजपा ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नोट बंद करने पर केंद्र की आलोचना को लेकर भाजपा ने ममता बनर्जी पर साधा निशाना

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो)

कोलकाता:

भाजपा ने केंद्र द्वारा बड़े मूल्य के नोट बंद करने के निर्णय की आलोचना करने को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आलोचना करते हुए कहा कि उनका विरोध वे ‘करोड़ों रुपये बचाने का बहाना’ है जो तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने कथित तौर पर पोंजी योजनाओं में गबन किये हैं.

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, ‘आज ममता बनर्जी एक वित्तीय आपातकाल और गरीब लोगों की परेशानी के बारे में बात कर रही हैं. लेकिन वह और उनकी पार्टी तब कहां थी जब राज्य के 17 लाख लोगों से पोंजी योजना कंपनियों ने ठगी की थी. तृणमूल कांग्रेस के कई नेताओं की उनके साथ नजदीकियां थीं.’

उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस शासन के दौरान बंगाल ‘जेहादियों और जाली भारतीय नोटों के ठगों के लिए एक सुरक्षित पनाहगाह’ के तौर पर तब्दील हो गया है.

टिप्पणियां

सिंह ने कहा, ‘तृणमूल कांग्रेस इतनी प्रतिक्रिया इसलिए व्यक्त कर रही है क्योंकि उसे पता है कि सारदा घोटाले की सभी धनराशि 500 रुपये और 1000 रुपये के नोट बंद होने के बाद बेकार कागज बन गई है. काला धन सामने लाने के इस नेक विचार के विरोध के पीछे यही एकमात्र कारण है.’


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement