मॉनसून सत्र के धुलने के बाद विपक्ष पर आक्रामक होने की कोशिश में सरकार

मॉनसून सत्र के धुलने के बाद विपक्ष पर आक्रामक होने की कोशिश में सरकार

पीएम मोदी और बीजेपी नेता (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

संसद का मॉनसून सत्र हंगामे की भेंट चढ़ गया। इसे लेकर बीजेपी आज पूरे देश में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने जा रही है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में बीजेपी नेता ये बताएंगे कि कैसे कांग्रेस की संसद में नीतियों और हंगामे की वजह से देश का विकास नहीं हो पा रहा है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस को केंद्रीय मंत्री, राष्ट्रीय प्रवक्ता, राज्यों के मुख्यमंत्री और राज्य बीजेपी के प्रमुख संबोधित करेंगे। रमन सिंह, एमएल खट्टर, रघुवर दास, लक्ष्मीकांत पारसेकर अपने-अपने राज्यों में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

वित्तमंत्री अरुण जेटली आज शाम 3 बजे नेशनल मीडिया सेंटर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे। इसके अलावा पीयूष गोयल अहमदाबाद और निर्मला सीतारमण चेन्नई में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी।

गौरतलब है कि संसद के मॉनसून सत्र का समापन आखिरकार हो गया और गुरुवार को दोनों सदन अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिए गए। यह पूरा सत्र हंगामे की भेंट चढ़ गया और जीएसटी समेत कोई भी महत्वपूर्ण बिल पास नहीं हो पाया।

Newsbeep

मॉनसूत्र सत्र को बाधित करने के विरोध में एनडीए सांसद विजय चौक से संसद तक 'लोकतंत्र बचाओ' मार्च किया। इस मार्च में केंद्रीय मंत्री भी शामिल थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


दरअसल, विपक्ष ललितगेट और व्यापमं के मुद्दे को लेकर सुषमा स्वराज, वसुंधरा राजे और शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे की मांग कर रहा है।