हरियाणा में गोपाल कांडा से समर्थन नहीं लेगी BJP, विवाद के बाद किया किनारा

हरियाणा में सरकार बनाने की कवायद के बीच खबर है कि बीजेपी गोपाल कांडा (Gopal Goyal Kanda) से समर्थन नहीं लेगी.

हरियाणा में गोपाल कांडा से समर्थन नहीं लेगी BJP, विवाद के बाद किया किनारा

गोपाल कांडा (फाइल फोटो)

नई दिल्ली :

हरियाणा में सरकार बनाने की कवायद के बीच खबर है कि बीजेपी गोपाल कांडा (Gopal Goyal Kanda) से समर्थन नहीं लेगी. दरअसल,  हरियाणा के सिरसा से विधानसभा चुनाव जीतने वाले लोकहित पार्टी के नेता गोपाल कांडा बीजेपी को समर्थन देने का ऐलान कर एक चर्चा में आ गए. उन्होंने कहा है कि उनके साथ सभी निर्दलीय विधायकों ने बीजेपी को समर्थन देने का फैसला किया है. हालांकि गोपाल कांड की पृष्ठभूमि को देखते हुए बीजेपी के साथ उनके जुड़ने को लेकर विवाद शुरू हो गया. खुद बीजेपी के अंदर से कांडा के खिलाफ आवाज उठने लगी. मध्‍य प्रदेश की पूर्व मुख्‍यमंत्री एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने हरियाणा में सरकार बनाने के लिए निर्दलीय विधायक गोपाल कांडा के साथ आने पर ऐतराज जताते हुए पार्टी से अनुरोध किया कि अपने साथ केवल साथ-सुथरे लोगों को ही रखें.  

BJP को समर्थन का ऐलान कर गोपाल कांडा ने निकाला RSS से पुराना रिश्ता, दूसरे MLA ने कहा- BJP मेरी मां 

उन्‍होंने कहा कि हरियाणा में हमारी सरकार ज़रूर बने, लेकिन यह तय करिए कि जैसे भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता साफ़-सुथरे ज़िंदगी के होते हैं, हमारे साथ वैसे ही लोग हों. उमा भारती ने एक के बाद एक आठ ट्वीट कर अपनी बात रखी. उमा भारती ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, ''मुझे जानकारी मिली है कि गोपाल कांडा (Gopal Kanda) नाम के एक निर्दलीय विधायक का समर्थन भी हमें मिल सकता है. इसी पर मुझे कुछ कहना है. गोपाल कांडा वही व्यक्ति है जिसकी वजह से एक लड़की ने आत्महत्या की थी तथा उसकी मां ने भी न्याय नहीं मिलने पर आत्महत्या कर ली थी, मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है, तथा यह व्यक्ति ज़मानत पर बाहर है.'' 

गोपाल कांडा से BJP के समर्थन लेने की खबरों पर नाराज उमा भारती बोलीं- यह वही है...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 40 सीटें मिली हैं और उसको बहुमत के लिए 6 सीटों की दरकार थी. लेकिन उसको करीब 8 निर्दलीय विधायकों को समर्थन मिलता दिखाई दे रहा है. हालांकि अब खबर है कि दुष्यंत चौटाला की पार्टी जेजेपी भी बीजेपी को समर्थन देने के लिए राजी हो गई है. जेजेपी को इस चुनाव में कुल 10 सीटें मिली हैं.  

VIDEO:  'हम उस पार्टी को समर्थन देंगे जो हमारे एजेंडे को आगे बढ़ाएगी'