क्या चिराग अपने मिशन नीतीश के चक्कर में भाजपा के लिए अधिक मुश्किलें पैदा कर रहे हैं?

बीजेपी ने बुधवार को दो टूक कहा कि एनडीए गठबंधन के बाहर कोई भी दल अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पोस्टर का इस्तेमाल प्रचार के लिए करता है, तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी.

क्या चिराग अपने मिशन नीतीश के चक्कर में भाजपा के लिए अधिक मुश्किलें पैदा कर रहे हैं?

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर लोजपा के खिलाफ बीजेपी का रुख सख्त है.

पटना:

Bihar Assembly Election 2020:  बिहार में आजकल भाजपा नेताओं का कोई संवाददाता सम्मेलन किसी विषय पर हो लेकिन अधिकांश समय उनका केंद्र में सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग़ पासवान पर सफ़ाई देते गुजर जाता हैं. बुधवार को पटना में वीआईपी पार्टी द्वारा एनडीए में शामिल होने के कार्यक्रम में भी कमोबेश यही हुआ.

सबसे पहले बिहार प्रभारी देवेंद्र फडनवीस ने कहा कि जो NDA गठबंधन से लड़ेगा वो हमारा है जो NDA गठबंधन से बाहर किसी भी दल से लड़ेगा वो हमारा नहीं. हालांकि फडणवीस ने ये साफ़ किया कि ऐसे बागियों को समझाने बुझाने का प्रयास किया जाता जाता है कि ऐसी गलती मत करिए लेकिन जो गलती करते हैं उनके ख़िलाफ़ पार्टी कार्रवाई करने से नहीं हिचकेगी.


वहीं उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने तो दो टूक शब्दों में कहा कि कोई भ्रम नहीं पालें जो नहीं मानेंगे तो वैसे सारे लोगों को निष्कासित कर दिया जाएगा. और बिहार इकाई के अध्यक्ष संजय जयसवाल का कहना था कि अगर हमारे स्टार प्रचारकों जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नंबर एक है अगर उनका पोस्टर किसी ने इस्तेमाल किया तो हम उनके ख़िलाफ़ FIR करेंगे. जहां संजय जयसवाल का बयान सीधे लोक जनशक्ति पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं को चेतावनी है क्यों कि उन्होंने भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की फ़ोटो वाले पोस्टर या हैंडबिल छपवा लिए हैं लेकिन अगर बांटते या ऐसे पोस्टरों को कहीं लगाया तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं देवेंद्र फडणवीस और सुशील मोदी के बयानों से साफ़ है कि पार्टी इस बात से आप परेशान हैं कि टिकट नहीं मिल रहा है वो सीधे लोजपा से टिकट ले रहे हैं और एक भ्रम की स्थिति यह बन रही है. BJP के इशारे पर लोजपा उन्हें सिंबल दे रही है इसलिए अब ये नेता बार बार सफ़ाई दे रहे हैं. जानकारों का कहना है कि चिराग पासवान नीतीश कुमार को कितना नुक़सान पहुंचा पाएंगे ये तो चुनाव परिणाम से पता चलेगा लेकिन हां फ़िलहाल उन्होंने भाजपा के लिए सरदार ज़रूर बढ़ा दिया है और जिसके कारण पार्टी को अब हर एक को मान मनैबल करना पड़ रहा है क्योंकि मैदान में लाने से पार्टी की छवि पर असर पड़ रहा है और NDA के मतदाताओं में भी असमंजस की स्थिति है BJP को डर है कि चिराग के इस नीतीश कुमार के नुक़सान का खामियाजा उसे न उठाना पड़े