NDTV Khabar

Ayodhya case: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई के बीच सामने आए 'राम के एक और वंशज', कहा- सबूत दिखाने को तैयार

देश में लंबे समय से लगातार चर्चाओं में बन रहे अयोध्या में राम जन्मभूमि भूमि (Ayodhya Land Dspute Case) मामले में जहां सुप्रीम कोर्ट में तेजी से सुनवाई चल रही है, वही एक नया विवाद और आन खड़ा हुआ है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Ayodhya case: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई के बीच सामने आए 'राम के एक और वंशज', कहा- सबूत दिखाने को तैयार

खुद को राम के वंशज बताने वाले एक के बाद एक करके सामने आ रहे हैं

खास बातें

  1. राम के एक और वंशज आए सामने
  2. भारतीय किसान यूनियन के नेता नरेश टिकैत ने किया दावा
  3. सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर पर चल रही है सुनवाई
लखनऊ:

देश में लंबे समय से लगातार चर्चाओं में बन रहे अयोध्या (Ayodhya Case) में राम जन्मभूमि भूमि मामले में जहां सुप्रीम कोर्ट में तेजी से सुनवाई चल रही है, वही एक नया विवाद और आन खड़ा हुआ है. जिसमें खुद को राम के वंशज कहने वाले एक के बाद एक सामने आ रहे हैं. भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बालियान खाप (रघुवंशी गोत्र) के मुखिया चौधरी नरेश टिकैत ने मुजफ्फरनगर स्थित अपने आवास पर पत्रकार वार्ता बुलाते हुए खुद को राम का वंशज बताया है. उनका कहना है कि असली राम के वंशज बालियान खाप है, जिनका गोत्र रघुवंशी है और यहां उनके 84 गांव हैं जिसके वह मुखिया हैं. बालियान खाप के मुखिया चौधरी नरेश टिकैत ने कहा 'राम जन्मभूमि का जो विवाद है, इसमें भी हमने बताया कि हम भी कम से कम अपना पक्ष रखें, रामचंद्र जी के वंशज हम हैं. इसलिए हमारा गोत्र भी रघुवंशी हैं यंहा हमारे रघुवंशियों के 84 गांव है.' 

प्रियंका गांधी का हमला- कहा- 'फैक्ट्रियां बंद हो रही हैं, नौकरियां खत्म हो रही हैं, लेकिन सरकार...'


उन्होंने कहा कि हमने भी यह सोचा कि हमारे द्वारा भी क्यों ना इस बात को पेश किया जाए माननीय सुप्रीम कोर्ट में यह मुकदमा चल रहा है. जो इसमें बल मिलेगा इस लिए हमारी भी बात वहां तक पहुंचाई जाए, जिस वजह से आज हम यहां इकट्ठे हुए हैं. पत्रकारों द्वारा इस बात का सबूत पूछने पर उन्होंने कहा कि सुबूत तो हमारा रघुवंशी गोत्र है. रामचंद्र जी का वंशज है 84 गांव है और पियोर के पियोर 84 गांव रघुवंशियों के है.

s1e2df0o

उन्होंने कहा कि यहां का एक भी बच्चा यह नहीं कहेगा कि हम राम के वंशज नहीं है और हमारे भाट हैं और सर्व खाप मंत्री हैं, वंशावली है और भी बहुत रिकॉर्ड हैं. अगर दिखाने की बात आएंगे तो हम दिखा भी देंगे. 

टिप्पणियां

जनसंख्या नियंत्रण पर पीएम मोदी के बयान के बाद शिवसेना ने मुस्लिम समुदाय के एक हिस्से पर साधा निशाना

बता दें कि राम के वंशज का सवाल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई को दौरान शुरू हुआ. कोर्ट ने सुनवाई के दौरान पूछा कि क्या कोई राम का वशंज है, कोर्ट के इस सवाल के जवाब में जन्मभूमि की ओर से वकील ने कहा कि इसकी जानकारी नहीं है लेकिन जयपुर राजघरानों का दावा है कि वह राम के वंशज हैं. वकील ने बताया कि जयपुर राजघराने की पूर्व राजकुमारी दीया सिंह का दावा है कि वह श्री राम के बेटे कुश वंशज से ताल्लुकात रखती हैं और इसके दस्तावेज उनके पास मौजूद हैं. सुप्रीम कोर्ट के सवाल के बाद तमाम लोगों ने दावा किया है कि वह राम के वंशज हैं और इसको साबित करने के लिए हमारे पास सबूत भी हैं.  
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement