भाकियू भी खोलेगी खुर्शीद के खिलाफ मोर्चा

खास बातें

  • किसानों का यह संगठन इस माह के अंत में खुर्शीद के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र फर्रुखाबाद में एक महापंचायत करके उन्हें अपनी तरह से घेरेगा।
फर्रुखाबाद:

इंडिया अगेंस्ट करप्शन (आईएसी) के बाद अब भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) भी विदेशमंत्री सलमान खुर्शीद के लिए सिरदर्द बनने जा रही है। किसानों का यह संगठन इस माह के अंत में खुर्शीद के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र फर्रुखाबाद में एक महापंचायत करके उन्हें अपनी तरह से घेरेगा।

खुर्शीद और उनकी पत्नी लुइस द्वारा संचालित डॉक्टर जाकिर हुसैन ट्रस्ट के जरिये विकलांगों का कथित रूप से हक मारने के विरोध में आईएसी नेता अरविंद केजरीवाल की रैली से उठे गुबार के बीच भाकियू भी मैदान में कूद पड़ी है।

भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के मुताबिक संगठन के कुछ कार्यकर्ता केजरीवाल की जनसभा के दौरान उनकी सुरक्षा में लगे यूनियन के लाठीबंद कार्यकर्ताओं पर कांग्रेस कारकुनों के ‘हमले’ तथा संगठन के जिलाध्यक्ष की कार पर पत्थरबाजी का मुद्दा लेकर यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत के पास गए थे।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने बताया कि टिकैत ने इसे गम्भीरता से लेते हुए इस माह के अंत में एक महांपचायत बुलाने का ऐलान किया और कहा कि इस महापंचायत में संस्था के सभी राष्ट्रीय नेता फर्रुखाबाद पहुंचकर विदेशमंत्री खुर्शीद के ट्रस्ट द्वारा किए गए ‘घोटाले’ तथा केजरीवाल की रैली के दौरान यूनियन कार्यकर्ताओं पर कांग्रेस कारकुनों द्वारा किए गए अत्याचार के खिलाफ बिगुल फूंकेंगे।

सूत्रों ने बताया कि टिकैत का भी मानना है कि खुर्शीद के ट्रस्ट ने विकलांगों के कल्याण की योजनाओं का धन हासिल करने के लिए सरकारी अधिकारियों के फर्जी दस्तखत और मोहरों का इस्तेमाल करके धोखाधड़ी की है और वह आईएसी द्वारा शुरू की गई लड़ाई को अपने संगठन के स्तर से भी लड़ना चाहते हैं।