NDTV Khabar

जेल में सलमान ने नहीं खाई दाल-रोटी, सोने के लिए मिले 4 कंबल, जमानत पर फैसला आज

जेल प्रशासन ने कहा कि फिल्म अभिनेता ने अलग से कोई मांग नहीं की है. पीटीआई की खबर के अनुसार जेल में उन्हें दाल रोटी दी गई, जिसे उन्होंने नहीं खाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जेल में सलमान ने नहीं खाई दाल-रोटी, सोने के लिए मिले 4 कंबल, जमानत पर फैसला आज

सलमान खान की जमानत पर फैसला आज.

खास बातें

  1. जमानत पर आज सुनवाई पूरी हुई
  2. सलमान ने जेल में नहीं खाया खाना
  3. सलमान खान जेल में कैदी नंबर-106 बने हैं.
जोधपुर: काला हिरण शिकार मामले में बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को जोधपुर की अदालत ने दोषी करार देते हुए 5 साल कैद और दस हजार जुर्माने की सजा सुनाई है. वह जोधपुर की सेंट्रल जेल में हैं. उनकी जमानत पर आज फैसला होगा. जोधपुर जेल में सलमान खान कैदी नंबर-106 हैं और उन्हें बैरक नंबर 2 में रखा गया है. जेल प्रशासन का कहना है, उनकी सुरक्षा का पूरा खयाल रखा जा रहा है. जेल प्रशासन ने कहा कि फिल्म अभिनेता ने अलग से कोई मांग नहीं की है. पीटीआई की खबर के अनुसार जेल में उन्हें दाल रोटी दी गई, जिसे उन्होंने नहीं खाया.

यह भी पढ़ें : सलमान खान को 5 साल की जेल, जानिए सजा सुनाते समय जज ने क्या कहा...

जोधपुर के डीआईजी विक्रम सिंह ने बताया कि सलमान खान यहां क़ैदी नंबर 106 हैं और उन्हें वार्ड नंबर 2 में रखा गया है. उन्होंने बताया कि उनका मेडिकल चेक अप भी हुआ था. उनका ब्लड प्रेशर कुछ बढ़ा हुआ है. इसके साथ ही ये रात उन्हें फ़र्श पर गुज़ारनी होगी. हालांकि सलमान को 4 कंबल दिए गए हैं. डीआईजी विक्रम सिंह ने बताया कि पूरी जेल में उनके आने की ख़बर से हलचल है, लेकिन सलमान अकेले हैं. उन्होंने अपनी ओर से कुछ भी नहीं मांगा है. गौरतलब है कि ये वही जेल है जहां आसाराम, शंभूनाथ रैगर और मलखान सिंह जैसे आरोपी अलग-अलग केस में पहले से मौजूद हैं.

VIDEO :  जोधपुर जेल में कैदी नंबर 106 हैं सलमान खान

टिप्पणियां
इससे पहले जोधपुर CJM कोर्ट के जज ने अपने फ़ैसले में कहा कि मुल्जिम अभिनेता हैं और आम जन भी उसका (सलमान) काम को देखकर उसका अनुसरण करते हैं. उन्होंने कहा कि सलमान ने वन्यजीव संरक्षण क़ानून के तहत संरक्षित ब्लैक बक प्रजाति के दो मूक जानवरों का गोली मार कर शिकार किया है, ऐसे में आम लोग यह देखेंगे तो उनका अनुसरण करेंगे. यह देखते हुए और बढ़ता अवैध शिकार देखते हुए यह अपराध अत्यंत गंभीर है. 

(इनपुट : भाषा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement