कचरा हटाओ अभियान : मुंबई में डेब्रि ऑन कॉल कितनी कारगर

कचरा हटाओ अभियान : मुंबई में डेब्रि ऑन कॉल कितनी कारगर

मुंबई:

मुम्बई शहर में हर दिन करीब 2700 टन मलबा रोजाना निकलता है। प्रधानमंत्री के स्वच्छ्ता अभियान के तहत महाराष्ट्र सरकार और बीएमसी दोनों ही शहर की सफाई पर अपना ध्यान केंद्रित करने का दावा कर रहे हैं। इसी के तहत शहर के मलबे को बेहतर तरीके से डंप करने के लिए बीएमसी द्वारा डेब्रि ऑन नाम की सुविधा शुरू की है।

नागरिकों को अपने घर के पास सड़क पर या किसी और जगह निर्माणाधीन इमारतों का कूड़ा यानी डेब्रि की शिकायत दर्ज़ करनी है तो बीएमसी का कहना है कि एक फ़ोन लगाओ और बीएमसी वह कूड़ा हटा लेगी। शहर के सभी 24 वार्ड में यह सुविधा उपलब्ध है।

यहां देखें वीडियो

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर पल्लवी दराडे का कहना है कि डेब्रि ऑन कॉल एक बेहद महत्वपूर्ण सुविधा है। कई बार घर या दुकान में किसी तरह के निर्माण या मरम्मत के बाद निकले मलबे का क्या किया जाए यह एक सवाल बन जाता है। ऐसे में लोग यदि डेब्रि ओन कॉल की सुविधा का लाभ उठाते हुए बीएमसी को इतल्ला कर देंगे तो एक तय कीमत पर बीएमसी वह मलबा हटा लेगी और इसके अलावा लोग अगर अपने आसपास के मलबे की शिकायत भी कर सकते हैं और उसका बीएमसी कोई शुल्क नहीं लेगी।

हालांकि कई शिकायतकर्ताओं का कहना है कि यह सुविधा कारगर नहीं है। कई कई बार फोन लगाने पर या तो फोन उठाया नहीं जाता या कोई जवाब नहीं दिया जाता और अगर शिकायत दर्ज कर ली जाए तो भी बीएमसी वह मलबा उठाने नहीं आती।