शीना बोरा हत्याकांड : मुंबई पुलिस का दावा शव के अवशेष पेण के जंगल में मिले

शीना बोरा हत्याकांड : मुंबई पुलिस का दावा शव के अवशेष पेण के जंगल में मिले

2012 को जब पेण पुलिस को शव मिला तब उसने सिर्फ स्टेशन डायरी बनाई थी

मुंबई:

मुंबई पुलिस की टीम को रायगढ़ के पेण में उस जगह से शव के अवशेष मिल गए हैं, जहां पेण पुलिस ने शीना के कंकाल को दफन किया था। दरअसल, शीना की हत्या को साबित करने के लिए जरूरी था कि शव मिले, जिसे वह डीएनए टेस्ट के जरिये साबित कर सके कि वहां मिला हुआ शव शीना का ही था।

दरअसल, 23 मई 2012 को जब पेण पुलिस को शव मिला था तब उसने एफआईआर या एडीआई न लेकर सिर्फ स्टेशन डायरी बनाई थी। पेण के तत्कालीन पुलिस निरीक्षक सुरेश मिरगे ने एनडीटीवी इंडिया को बताया कि मौके पर से शव नहीं सिर्फ हड्डियां मिली थीं, जिससे यह तय कर पाना कि हत्या है या कुछ और बहुत मुश्किल था इसलिए मैंने स्टेशन डायरी दर्ज कर नमूने जांच के लिए भेज दिए थे, लेकिन उसके बाद क्या हुआ किसी को पता नहीं।

अब जेजे अस्पताल और फोरेंसिक लैब में नमूनों की तलाश जारी है, लेकिन अभी तक सफलता नहीं मिली है। इसलिए शीना की हड्डियों की तलाश में मुंबई पुलिस पेण के गागोदे गांव के जंगल में उस जगह पर खुदाई की।पेण पुलिस ने 2012 को मौके से मिली हड्डियां वहीं दफना दी थीं।

उधर, इंद्राणी मुखर्जी को अपने वकील से मिलने की इजाजत मिल गई है। कोर्ट ने कहा कि हर आरोपी का अपने वकील से मिलने का अधिकार है। वकील जांच अधिकारी से कॉर्डिनेट कर मिल सकते हैं। इन्द्राणी की तरफ से घर का खाना और कपड़े देने की भी गुजारिश की गई थी, लेकिन अदालत ने उस पर कोई फैसला नहीं दिया।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com