NDTV Khabar

अब 1000 घंटे के उड़ान अनुभव वाले पायलट ही उड़ा सकेंगे बोइंग 737 मैक्स विमान

डीजीसीए ने बी737 मैक्स विमानों की उड़ानों के लिए अतिरिक्त सुरक्षा निर्देश जारी किए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब 1000 घंटे के उड़ान अनुभव वाले पायलट ही उड़ा सकेंगे बोइंग 737 मैक्स विमान

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. इथियोपिया में 737 -मैक्स विमान हादसे में 157 लोग मारे गए
  2. डीजीसीए ने जानकारी के आधार पर अंतरिम सुरक्षा उपाय किए
  3. डीजीसीए स्थिति पर नजदीकी निगाह रखेगा
नई दिल्ली:

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बोइंग 737 मैक्स विमानों के परिचालन के लिए स्पाइसजेट और जेट एयरवेज को अतिरिक्त सुरक्षा निर्देश जारी किए हैं. डीजीसीए के निर्देशों के अनुसार इन विमानों की उड़ानों का परिचालन करने वाले पायलटों के पास कम से कम 1,000 घंटे का उड़ान अनुभव होना चाहिए.

एक दिन पहले ही इथियोपिया में 737 -मैक्स विमान हादसे में 157 लोग मारे गए. इसी के बाद डीजीसीए ने अभी उपलब्ध जानकारी के आधार पर अंतरिम सुरक्षा उपाय किए हैं. नियामक ने बयान में कहा कि डीजीसीए स्थिति पर नजदीकी निगाह रखेगा. दुर्घटना जांच एजेंसी-एफएए- बोइंग से मिलने वाली जानकारी के आधार पर वह अतिरिक्त परिचालन-रखरखाव उपाय कर सकता है या अंकुश लगा सकता है.

इथोपियाई एयरलाइंस का विमान दुर्घटनाग्रस्त, क्रू मेंबर समेत सभी 157 लोगों की मौत


डीजीसीए ने विमानन कंपनियों से कहा है कि वे 737 मैक्स विमानों के संदर्भ में इंजीनियरिंग और रखरखाव कर्मियों के बारे में विभिन्न आवश्यकताओं को पूरा करें. बयान में कहा गया है कि 12 मार्च को दिन में 12 बजे के बाद से डीजीसीए के ताजा निर्देशों के अनुपालन के बिना बी 737-8 मैक्स विमानों का परिचालन नहीं किया जा सकेगा.

VIDEO : बोइंग 737 मैक्स विमानों पर उठे सवाल

टिप्पणियां

(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement