पाकिस्तान में दुर्व्यवहार का शिकार हुए भारतीय उच्चायोग के दोनों कर्मचारी भारत लौटे

वैसे आज भारतीय उच्चायोग के कुल 5 कर्मचारी अटारी-वाघा सीमा के रास्ते वापस देश में लौटे हैं. 

पाकिस्तान में दुर्व्यवहार का शिकार हुए भारतीय उच्चायोग के दोनों कर्मचारी भारत लौटे

पाक उच्चायोग के कुल पांच कर्मचारी अटारी-वाघा सीमा के रास्ते वापस देश में लौटे

अटारी:

पाकिस्तान में दुर्व्यवहार के शिकार हुए भारतीय उच्चायोग के दोनों कर्मचारी आज वाघा बॉर्डर के ज़रिए वापस भारत पहुंचे. सूत्रों के मुताबिक़ दोनों छुट्टी पर आए हैं, लेकिन ऐसा बताया जा रहा है कि ये दोनों अब वापस नहीं जाएंगे क्योंकि पाकिस्तान में इन दोनों पर फ़र्ज़ी मामला दायर किया गया है और इन्हें परेशान किया जा सकता है. पाकिस्तान में इन दोनों को कथित हिट एंड रन मामले में गिरफ्तार किया था और बाद में इन्हें रिहा किया गया था. इन दोनों कर्मचारियों के नाम ब्रह्मा और सेल्वादास है. पाकिस्तान में 15 जून को कथित ‘हिट एंड रन' मामले में गिरफ्तार किया गया था. उस घटना के बाद भारत ने इस्लामाबाद में भारतीय मिशन के दो अधिकारियों के "अपहरण और प्रताड़ना" पर विरोध दर्ज कराते हुए पाकिस्तान उच्चायोग के प्रभारी को तलब किया था.

वैसे आज भारतीय उच्चायोग के कुल पांच कर्मचारी अटारी-वाघा सीमा के रास्ते वापस देश में लौटे हैं. अधिकारियों ने बताया कि वापस लौटे अधिकारियों में वायु सलाहकार ग्रुप कैप्टन मनु मिधा, द्वितीय सचिव एस शिव कुमार और स्टाफ सदस्य पंकज, सेल्वादास पॉल तथा द्विमु ब्रह्मा शामिल हैं. पांचों को एक कार से वाघा चेक-पोस्ट तक आए. अधिकारियों ने बताया कि उनके दिल्ली रवाना होने से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग और प्रारंभिक चिकित्सा जांच की गई.

(इनपुट एजेंसी भाषा से भी)

भारतीय उच्चायोग के कर्मचारी रिहा, पाकिस्तान ने किया था गिरफ्तारVideo

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com