NDTV Khabar

बांग्लादेश में पूर्वोत्तर आतंकियों के शिविर पर पुख्ता जानकारी नहीं: बीएसएफ

बांग्लादेश में पूर्वोत्तर आतंकवादियों के शिविर हो सकते हैं लेकिन सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के पास इस संबंध में कोई विशेष सूचना नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बांग्लादेश में पूर्वोत्तर आतंकियों के शिविर पर पुख्ता जानकारी नहीं: बीएसएफ

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. बांग्लादेश में पूर्वोत्तर आतंकियों के शिविर पर पुख्ता जानकारी नहीं: बीएसए
  2. एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी
  3. भारत-बंग्लादेश के बीच 856 किलोमीटर लंबी सीमा है
अगरतला: बांग्लादेश में पूर्वोत्तर आतंकवादियों के शिविर हो सकते हैं लेकिन सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के पास इस संबंध में कोई विशेष सूचना नहीं है. एक अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी. बीएफएफ के त्रिपुरा सीमांत महानिरीक्षक एस.आर. ओझा ने मंगलवार शाम बताया, " पूर्वोत्तर के आतंकवादियों के कुछ शिविर बांग्लादेश में हो सकते हैं लेकिन हमारे पास वहां शिविर होने या उनके छुपे होने की कोई पुख्ता सूचना नहीं है."

यह भी पढ़ें: शहीद बीएसफ जवान की बेटी ने कहा, '100 पाकिस्तानी आतंकवादियों को मारना चाहिए'

उन्होंने कहा, "बार्डर गार्ड बंग्लादेश (बीजीबी) हमें बहुत सहयोग करता है. कभी-कभी बीएसएफ और बीजीबी के जवान सीमा पार तस्करी के अलावा अपराध, घुसपैठ और अवांछित चहल-पहल पर नजर रखने के लिए सीमा पर संयुक्त गश्त लगाते हैं." ओझा ने कहा कि भारत-बंग्लादेश के बीच 856 किलोमीटर लंबी सीमा है जिसमें लगभग 21 किलोमीटर की सीमा बिना बाड़े की है. इसमें बाड़ लगाने का काम किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: घाटी में और फिदायीन हमले की फिराक में हैं आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद

टिप्पणियां
उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में 145 किलोमीटर के सीमा क्षेत्र में अतिरिक्त चौकसी बढ़ाने के लिए फ्लडलाइटिंग का इंतजाम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि बंग्लादेश में बड़ी संख्या में रोहिंग्या समुदाय के आने के मद्देनजर पूर्वोत्तर क्षेत्र में किसी भी तरह के घुसपैठ को रोकने के लिए सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

VIDEO: अरनिया सेक्टर में सुरंग के ज़रिए घुसपैठ की कोशिश नाकाम
त्रिपुरा पुलिस के खुफिया अधिकारियों के अनुसार, बांग्लादेश में कम से कम त्रिपुरा आतंकियों के 15 शिविर अभी भी चल रहे हैं. यह शिविर मुख्यत: प्रतिबंधित नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (एनएलएफटी) के हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement