जामिया और AMU छात्रों के समर्थन में BSP सुप्रीमो मायावती, कहा- हमारी पार्टी पीड़ितों के साथ

बीएसपी सुप्रीमो मायवती ने लिखा, 'ऐसे समय में उप्र सरकार और केंद्र सरकार को चाहिए कि वे इन वारदातों की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच कराएं और सुनिश्चित करें कि असल दोषियों को न्याय के कटघरे में लाया जाए.'

जामिया और AMU छात्रों के समर्थन में BSP सुप्रीमो मायावती, कहा- हमारी पार्टी पीड़ितों के साथ

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने जामिया और AMU में हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने किया ट्वीट
  • जामिया-AMU में हिंसा को बताया दुर्भाग्यपूर्ण
  • सरकार से की उच्चस्तरीय जांच की मांग
लखनऊ:

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध के दौरान कुछ जगहों पर हुई हिंसा को बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की प्रमुख मायावती (Mayawati) ने अति दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. मायावती ने सोमवार को ट्वीट किया, 'नए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में पहले उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ विश्वविद्यालय में फिर दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में हिंसा हुई. कई बेकसूर छात्र और आम लोग इस हिंसा के शिकार हुए. यह अति दुर्भाग्यपूर्ण है तथा बसपा पीड़ितों के साथ है.'

बीएसपी प्रमुख ने एक दूसरे ट्वीट में कहा, 'ऐसे समय में उप्र सरकार और केंद्र सरकार को चाहिए कि वे इन वारदातों की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच कराएं और सुनिश्चित करें कि असल दोषियों को न्याय के कटघरे में लाया जाए. पुलिस तथा प्रशासन को भी निष्पक्ष हो कर कार्य करना चाहिए.'

VIDEO: जामिया के हिंसक प्रदर्शन के बाद लाइब्रेरी और बाथरूम के वीडियो सामने आए



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com