वित्त मंत्री बोलीं- भारत अब दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी, पढ़ें, अब तक की बड़ी बातें

Budget 2020: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बजट (Budget 2020-21) भाषण पढ़ना शुरू कर दिया है. वित्त मंत्री के रूप में वह दूसरी बार बजट पेश कर रही हैं.

वित्त मंत्री बोलीं- भारत अब दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी, पढ़ें, अब तक की बड़ी बातें

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बजट (Budget 2020-21) भाषण पढ़ना शुरू कर दिया है. वित्त मंत्री के रूप में वह दूसरा बार बजट पेश कर रही हैं. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने उनको बजट पेश करने की मंजूरी देते हुए कहा कि दशक का पहला बजट पेश करने के लिए उनका अभिनंदन. बजट की अबतक की प्रमुख बातें.

भारत अब दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी

भारत अब दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन चुका है और केंद्र सरकार का कर्ज घटकर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 48.7 प्रतिशत पर आ गया है. यह मार्च, 2014 में 52.2 प्रतिशत था. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश करते हुए कहा कि 2014-19 के दौरान औसत वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत से अधिक रही. इस दौरान औसत मुद्रास्फीति 4.5 प्रतिशत रही. सीतारमण ने अपने बजट भाषण कई कल्याण योजनाओं मसलन सस्ता घर, प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी) और आयुष्मान भारत का जिक्र किया.

अप्रैल 2020 से पेश होगा जीएसटी रिटर्न का सरल स्वरूप: सीतारमण

जीएसटी के रिटर्न का सरल स्वरूप अप्रैल 2020 से पेश किया जाएगा. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा में अपने कार्यकाल का दूसरा बजट पेश करते हुए कहा कि जीएसटी ने इंस्पेक्टर राज को खत्म किया है और लॉजिस्टिक्स क्षेत्र को मदद पहुंचायी है. उन्होंने कहा कि इससे उपभोक्ताओं को एक लाख करोड़ रुपये की बचत हो रही है. उन्होंने कहा, ‘‘जीएसटी के क्रियान्वयन के बाद हर परिवार को मासिक व्यय में चार प्रतिशत की बचत हो रही है.' उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में जीएसटी में दो लाख नये करदाता जुड़े हैं. इसके तहत 40 करोड़ रिटर्न दाखिल किये गये हैं तथा 105 करोड़ ई-वे बिल सृजित हुए हैं. उन्होंने बजट पेश करने से पहले पूर्व वित्त मंत्री व जीएसटी के ‘शिल्पकार' अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी. जीएसटी प्रणाली एक जुलाई 2017 से लागू हुई है. इस बार जनवरी में जीएसटी के तहत 1.1 लाख करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व संग्रह हुआ. यह लगातार तीसरा महीना है जब जीएसटी से एक लाख करोड़ रुपये से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ है.

बजट का लक्ष्य रोजगार, मजबूत कारोबार, महिलाओं का कल्याण

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि इस बजट का लक्ष्य लोगों को रोजगार उपलब्ध कराना, कारोबार मजबूत करना और अल्पसंख्यकों, अनुसूचित जाति/जनजाति की सभी महिलाओं की आकांक्षाओं को पूरा करना है. उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है. सरकार ने 2014 से 2019 के दौरान राजकाज में व्यापक बदलाव किये हैं.

अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत, मुद्रास्फीति नियंत्रण में

Newsbeep

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है, मुद्रास्फीति नियंत्रण में है और बैंकों का बही खाता साफ सुथरा हुआ है. वित्त मंत्री ने शनिवार को वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश करते हुए कहा कि हमारा मकसद लोगों की आय और खरीद क्षमता बढ़ाना है. उन्होंने कहा कि 2014-19 के दौरान सरकार ने कामकाज के संचालन में बड़ा बदलाव किया है. उन्होंने माल एवं सेवा कर को ऐतिहासिक संरचनात्मक सुधार करार देते हुए कहा कि इससे देश आर्थिक रूप में एकीकृत हुआ है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: बजट 2020: कश्मीर को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पढ़ी कविता- 'हमारा वतन डल झील में खिलते हुए कमल जैसा...'



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)