NDTV Khabar

Bulandshahr Violence: मुख्य आरोपी योगेश राज को कोर्ट ने दी जमानत, हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हुई थी हत्या

बुलंदशहर हिंसा (Bulandshahr violence) के मुख्य आरोपी योगेश राज (Yogesh Raj) को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने जमानत दे दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Bulandshahr Violence: मुख्य आरोपी योगेश राज को कोर्ट ने दी जमानत, हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हुई थी हत्या

Bulandshahr Violence: बुलंदशहर हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह (Subodh Kumar Singh) की हुई थी हत्या.

खास बातें

  1. बुलंदशहर हिंसा के मुख्य आरोपी को मिली जमानत
  2. योगेश राज को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने दी जमानत
  3. हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की हत्या कर दी गई थी
नई दिल्ली:

बुलंदशहर हिंसा (Bulandshahr violence) के मुख्य आरोपी योगेश राज (Yogesh Raj) को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने जमानत दे दी है. बुलंदशहर हिंसा में ही इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी.  बजरंग दल का एक स्थानीय नेता योगेश राज उन लोगों में शामिल था, जिन्होंने महाव गांव में मवेशी का शव मिलने के बाद भड़की हिंसा के दौरान भीड़ को इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को मारने के लिए उकसाया था. एक अन्य आरोपी, पूर्व भाजपा युवा मोर्चा कार्यकर्ता शिखर अग्रवाल पहले से ही जमानत पर बाहर है. बता दें कि मामले की जांच उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष जांच टीम कर रही है.

बुलंदशहर हिंसा के आरोपियों को माला पहनाए जाने के वीडियो पर बोलीं शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी, बहुत दुखी हूं


बता दें कि हाल ही में बुलंदशहर हिंसा के कुछ आरोपी जब जमानत पर जेल से बाहर आए थे तो जय श्री राम और वंदे मातरम के नारों के बीच उनका भव्य स्वागत किया गया था. जेल से बाहर आए आरोपियों के साथ लोगों ने फूलों की माला पहनाई थी और उनके साथ सेल्फी ली थी. बता दें कि पिछले साल दिसंबर महीने को स्याना के चिंगरावटी गांव में गौकशी की अफवाह के बाद इलाके में हिंसा भड़क गई थी. इस हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पूरा गांव आगजनी और बवाल की भेंट चढ़ गया था. लोगों ने सरकारी वाहन और पुलिस चौकी को आग के हवाले कर दिया था. उत्तर प्रदेश पुलिस ने 38 लोगों को गिरफ्तार किया था. 38 में से 6 आरोपी जमानत पर रिहा होकर शनिवार को बाहर निकले. 

बुलंदशहर हिंसा: जमानत पर छूटे आरोपियों का माला पहनाकर हुआ स्वागत, जय श्री राम के लगे नारे, देखें VIDEO

टिप्पणियां

शिखर अग्रवाल भाजपा युवा मोर्चा के स्याना के पूर्व नगर अध्यक्ष है. जबकि उपेंद्र सिंह राघव अंतरराष्ट्रीय हिन्दू परिषद के विभाग अध्यक्ष हैं. इसके अलावा अन्य तीन की पहचान जीतू फौजी, सौरव और रोहित राघव के रूप में हुई थी. जब यह आरोपी बाहर आए तो फूल माला पहनाकर उनका स्वागत किया गया था. इस दौरान भारत माता की जय, वन्दे मातरम और जय श्री राम के नारे लगाए गए. इस दौरान पूरी घटना का वीडियो किसी ने बना लिया. ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था.

VIDEO: बुलंदशहर हिंसा के आरोपियों का भव्य स्वागत, क्या ये इंस्पेक्टर सुबोध का अपमान नहीं?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement